Home >> Breaking News >> रेलवे, कोल इंडिया का निजीकरण नहीं करेगी सरकारः जेटली

रेलवे, कोल इंडिया का निजीकरण नहीं करेगी सरकारः जेटली


arun-jaitley
नई दिल्ली,(एजेंसी) 18 जनवरी । केंद्रीय फाइनैंस मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि कहा कि सरकार का इरादा रेलवे या कोल इंडिया के निजीकरण का नहीं है।

जेटली ने 11 ट्रेड यूनियनों के साथ प्री-बजट मीटिंग के बाद जारी आधिकारिक बयान में कहा है, ‘रेलवे या कोल इंडिया के निजीकरण का सरकार कोई इरादा नहीं है। सरकार का ध्यान ज्यादा नौकरियां पैदा और रोजगार के अवसर पैदा करने पर है।’

उन्होंने कहा, ‘सरकार का ध्यान आम आदमी के रहन-सहन को आसान बनाने के लिए रहने के लिए बेहतर वातावरण के निर्माण पर है।’

इन यूनियनों ने सरकार द्वारा मुनाफा में चल रही सार्वजनिक सेक्टर की यूनिट्स के विनिवेश को तुरंत रोके जाने की मांग की। साथ ही सरकार द्वारा बीमार सरकारी यूनिट्स को दी जा रही आर्थिक सहायता को भी बंद किए जाने की अपील की।

ऑल इंडिया ट्रेड यूनियव कांग्रेस (एआईटीयूसी) के सेक्रेटरी डॉ. डीएल सचदेव ने बैठक के बाद मीडिया से कहा, ‘हमने खास तौर कोल सेक्टर, इंश्योरेंस सेक्टर और भूमि अधिग्रहण अध्यादेशों का विरोध किया और सरकार से तुरंत इन्हें वापस लेने की मांग की। साथ ही उन्होंने रक्षा उत्पादों जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में विदेशी निवेश का विरोध किया।

फाइनैंस मंत्री के साथ जिन यूनियनों ने इस दौरान मुलाकात की उनमें AITUC, द सेंटर फॉर इंडियन ट्रेड यूनियंस (CITU), भारतीय मजदूर संघ (BMS) और इंडियन नैशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस (INTUC) शामिल थे।


Check Also

हैदराबाद चुनाव : बीजेपी आलोचकों के दिलों पर राज कर रही और नए क्षेत्रों में जीत हासिल कर रही है : अभिनेत्री कंगना रणौत

हैदराबाद चुनाव पर अभिनेत्री कंगना रणौत ने कांग्रेस पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *