Wednesday , 30 September 2020
Home >> Breaking News >> ‘आप’ कि सरकार में कौन बनेगा मंत्री ?

‘आप’ कि सरकार में कौन बनेगा मंत्री ?


AAP

नई दिल्ली एजेंसी । आम आदमी पार्टी (आप) पार्टी के सरकार बनाने का दावा करने के साथ ही अब उन चेहरों को तलाशा जा रहा है जो आने वाली सरकार में मंत्री बनेंगे। हालांकि आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने इस बाबत अपने पत्ते अभी नहीं खोले हैं। लेकिन कुछ नामों की चर्चा मंत्रिपद के लिए बेहद जोरों पर है। केजरीवाल ने इस बाबत कोई भी खुलासा करने से मना कर दिया है। उनका कहना है कि अंतिम समय में इस बारे में फैसला लिया जाएगा।
लेकिन आप ऐसे कुछ नामों पर विचार कर सकती है जो मंत्री बन सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ नामों पर एक नजर डालते हैं:-

मनीष सिसोदिया :- अरविंद केजरीवाल के पुराने साथी और पूर्व पत्रकार 41 वर्षीय मनीष सिसोदिया का नाम इस लिस्ट मे सबसे आगे है। सिसोदिया केजरीवाल के साथ उनकी एनजीओ परिवर्तन के समय से ही जुड़े हुए हैं। हालांकि वह भी केजरीवाल की तरह ही जन लोकपाल आंदोलन से प्रकाश में आए। सिसोदिया ने भाजपा के नकुल भारद्वाज को पटपड़गंज विधानसभा सीट से 11,478 मतों से पराजित किया है। हापुड़ के राजपूत परिवार से संबंध रखने वाले सिसोदिया ने पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है।
सौरव भारद्वाज :- केजरीवाल की सरकार के दूसरे संभावित मंत्रियों में 34 वर्षीय सौरव भारद्वाज का नाम आता है। पेशे से इंजीनियर भारद्वाज ने कानून की भी पढ़ाई की है। उन्होंने भाजपा के दिग्गज नेता वीके मल्होत्रा के बेटे अजय कुमार मल्होत्रा को ग्रेटर कैलाश सीट से 13,092 मतों के अंतर से हराया है।
विनोद कुमार बिन्नी :- इस लिस्ट में तीसरा नाम है विनोद कुमार बिन्नी का। पूर्वी दिल्ल्ी की लक्ष्मीनगर सीट से दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री एके वालिया को लगभग 8,000 मतों से हरा कर विधायक बनने वाले बिन्नी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से डिग्री हासिल की है। यूं तो वह 2009-2011 तक कांग्रेस के सदस्य थे, लेकिन जन लोकपाल आंदोलन से जुड़ने के बाद उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी।
सोमनाथ भारती :- आईआईटी दिल्ली से विज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएट करने वाले 34 वर्षीय सोमनाथ भारती ने भाजपा की आरती मेहरा और कांग्रेस की किरण वालिया को मालवीय नगर की सीट से हराकर विधानसभा में प्रवेश किया है। भारती ने कानून की भी पढ़ाई की है और वह आईआईटी-दिल्ली एल्यूमनी एसोसिएशन के अध्यक्ष भी थे।
वंदना कुमारी :- गरीब और असहाय महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ने वाली 39 वंदना ने स्नातक की डिग्री हासिल की है। इन्होंने भाजपा के रवींद्रनाथ बंसल को शालीमार बाग से 10,000 से अधिक मतों से हराया।
जरनैल सिंह :- वाटर प्यूरीफायर कंपनी के मालिक जरनैल सिंह ने भाजपा के राजीव बब्बर को पश्चिमी दिल्ली की तिलक नगर सीट से 2,088 मतों के अंतर से पराजित किया।


Check Also

जेडीयू में शामिल होने की बात महज एक अफवाह है: शरद यादव

पिछले कुछ दिनों से लोकतांत्रिक जनता दल के प्रमुख शरद यादव के जेडीयू में शामिल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *