Home >> Breaking News >> अध्यादेश से निवशकों पर प्रभाव नहीं: जेटली

अध्यादेश से निवशकों पर प्रभाव नहीं: जेटली


arun-jaitley नई दिल्ली ,(एजेंसी) 24 जनवरी । वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आगामी बजट में कर की दरें नहीं बढ़ाने तथा मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र को प्रोत्साहन देने का संकेत देते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था की 8-9 प्रतिशत वृद्धि के लिए कुछ ‘बुनियादी बदलाव’ करने होंगे। विश्व आर्थिक मंच डब्ल्यूईएफ द्वारा आयोजित वार्षिक सम्मेलन में वैश्विक निवेशकों जोरदार तरीके से भारत की ओर आकर्षित करते हुए वित्त मंत्री ने स्थिर कर व्यवस्था का भी वादा किया, जिसमें किसी अनुचित मांग का नोटिस नहीं जाएगा और न ही पिछली तिथि से कोई नया कर लगाया जाएगा।

अध्यादेश से निवेशकों को फर्क नहीं

सुधार के लिए अध्यादेश लाने पर हो रहे राजनीतिक विरोध को ‘अवरोध की नीति’ करार देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि विदेशी निवेशकों को इन फैसलों से कोई समस्या नहीं है, अलबत्ता वे तो इस बात से खुश ही हैं कि सरकार यह कानून लेकर आई। जेटली ने कहा ‘मुझे नहीं लगता है कि अध्यादेश का जरिया उनके लिए जरा भी चिंता का विषय है।

वे इस बात से बहुत खुश हैं कि भारत सरकार यह कानून लेकर आई। अध्यादेश को मंजूरी मिल ही जाएगी।’ उन्होंने कहा ‘अध्यादेश के तहत की गई पहल वैध नजर आती है और आखिरकार सभी को पता है कि लोकसभा और संयुक्त सदन में हमारे पास बहुमत है इसलिए अवरोध की नीति की वजह से सिर्फ देरी ही हो सकती है।’

टैक्स स्लैट अप्रभावित

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बात का संकेत दिया है कि वह बजट में टैक्स दरों में ज्यादा बढ़ोत्तरी नहीं करेंगे। यह बजट मेक इन इंडिया यानी देश में उत्पादन बढाने पर फोकस रहेगा। इसके अलावा जेटली ने कहा कि आम सहमति बनाने के बाद ही मल्टी ब्रैंडेड रिटेल सेक्टर में एफडीआई को लाने पर पुनर्विचार किया जाएगा। इसका मतलब है कि सरकार इस पर आम सहमति बनाने की कोशिश में हैं।

बजट होगा सुधारों का ‘बिग बैंग’

विस्फोटक बजट: विश्व आर्थिक मंच की सालाना बैठक में जेटली ने कहा कि उनकी सरकार स्थिर टैक्स प्रणाली पर भरोसा करती है। इसका आगामी बजट में ख्याल रखा जाएगा। बजटे से संबंधित जो बातें हमने अभी तक कही हैं। यदि आप इसका कुल योग करें तो यह ‘बिग बैंग’ (महा-विस्फोट) से बढ़कर होगा। वित्त मंत्री ने कहा ”मैं उम्मीदें कम नहीं कर रहा। रेलवे, रक्षा जैसे अछूते सेक्टरों को खोलना, क्या यह बिग बैंग नहीं है? जीएसटी, जिसके बारे में लोग सोचते थे कि यह कभी वास्तविकता नहीं बन पाएगा, क्या वह धमाका नहीं है।


Check Also

देश के किसानों की आवाज को दबाया नहीं जा सकता : पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *