Home >> Breaking News >> बीजेपी ने केजरीवाल और कांग्रेस पर फोड़ा ‘कार्टून बम’

बीजेपी ने केजरीवाल और कांग्रेस पर फोड़ा ‘कार्टून बम’


delhi-assembly-election-bjp-on-kejariwal
नई दिल्ली,(एजेंसी) 30 जनवरी । दिल्ली में चुनाव के लिए वोटिंग में सिर्फ एक हफ्ते का समय रह गया है। बीजेपी ने चुनाव के मौके पर केजरीवाल पर तीखे हमले तेज कर दिए हैं। कल से 5 सवाल पूछने का सिलसिला शुरू हुआ है। आज अखबारों में केजरीवाल पर हमले वाले विज्ञापन छप गए हैं। विज्ञापन में लिखा है- ‘सत्ता के लिए बच्चों की झूठी कसम खाऊंगा और रात दिन ईमानदारी का डंका भी बजाऊंगा। धोखे की राजनीति हटाइए। विकास की राजनीति लाइए, आप की करतूत, आप की करतूत, हर मौके पर झूठ।’

कार्टून में जहां बायीं ओर दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री केजरीवाल हैं, वहीं दायीं ओर खड़ी महिला की टोपी पर कांग्रेस लिखा हुआ है। इसके सहारे बीजेपी ने विरोधियों पर चौतरफा हमला करते हुए मतदाताओं को यह याद दिलाने की कोशिश की है कि ‘आप’ संयोजक केजरीवाल ने पिछले दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान अपने बच्चों की कसम खाकर यह बात कही थी कि वे कांग्रेस का समर्थन नहीं लेगें पर चुनाव परिणाम के बाद बहुमत नहीं मिलने पर वे कांग्रेस के साथ चले गए।

इसके अलावा कार्टून में पीछे लगी तस्वीर ‘इंडिया अगेंस्ट करप्शन’ द्वारा चलाए लोकपाल आंदोलन के अगुआ अन्ना हजारे की है जिसपर बीजेपी ने माला लटका दिया है। इससे पार्टी इस ओर इशारा करना चाहती है कि केजरीवाल ने अन्ना को तिलांजली दे दी है और अब उनका कोई महत्व नहीं रह गया यानि वे लगभग समाप्त हो गए हैं।

ऐसा करके बीजेपी ने नए विवाद को जन्म दे दिया है। आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास का मानना है कि वर्तमान में सबसे बड़े गांधीवादी अन्ना हजारे का ऐसा कार्टून बनाकर बीजेपी ने गांधी जयंती के दिन उन्हें अपमानित किया है।

वहीं आम आदमी पार्टी ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट डालकर लिखा है कि अखबारों में छपा बीजेपी का यह कार्टून हैरान करने वाला है, जिसमें अन्ना के फोटो पर माला चढ़ा दी गई है। केंद्र में सरकार चला रही पार्टी इतना कैसे गिर सकती हैं।

बीजेपी ने गठबंधन (आप+कांग्रेस) मामले पर सीधे हमला नहीं किया बल्कि पार्टी ने ‘आप’ के आदर्शवाद को मौकपरस्त बताया है। इसका एक कारण यह भी हो सकता है कि खुद बीजेपी भी जम्मू और कश्मीर में पीडीपी से गंठबंधन की ताक में बैठी है।

2014 में हुए आम चुनावों के बाद हुए पिछले चार विधानसभा चुनावों (महाराष्ट्र, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर और झारखंड) में बीजेपी अपने विरोधियों के खिलाफ़ ऐसे खुलकर मैदान में नहीं उतरी जैसे दिल्ली विधानसभा चुनाव में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ खुलकर आ गई है।

केजरीवाल का मफलर भी विवाद का विषय रहा है, बीते दिनों हैश टैग मफ्लरमैन को ट्विटर पर कई हफ्तों तक ट्रेंड करवाकर ‘आप’ संयोजक को किसी सुपरहीरो की तरह प्रोजेक्ट करने की कोशिश की गई, पर लगता है कि बीजेपी को इससे फर्क नहीं पड़ता क्योंकि पार्टी ने उनके मफलर पर हमला करते हुए लिखा है कि जिन आदर्शों का मफलर ये ओढ़ते हैं उसके पीछे सत्ता की भूख छिपी है।

अरविंद केजरीवाल का मफलर अपने शुरुआती दिनों से खासकर 2013 के दिल्ली चुनाव के बाद से तो और भी सुर्खियों में रहा था लेकिन हाल ही में यह एक बार फिर से चर्चा का विषय तब बन गया जब ट्विटर पर मफलरमैन रिटर्न का हैश टैग ट्रेंड करने लगा था।

इस पोस्टर में केजरीवाल को झूठा और फरेबी बताते हुए बीजेपी ने मतदाताओं से झाडू नहीं बल्कि कमल का बटन दबाने की अपील की है।

बताते चलें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सात फरवरी को होने हैं और इसके नतीजे 10 फरवरी को आएंगे। क्रेंद सरकार चला रही बीजेपी ने इस चुनाव को जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।


Check Also

दिल्ली में अभी स्कूल खोलने का कोई विचार नहीं है : स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने स्कूल न खोलने का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *