Wednesday , 25 November 2020
Home >> Politics >> कभी पत्‍नी के पैर तक दबाते थे किरण बेदी के पति, पर अब नहीं कर पा रहे प्रचार

कभी पत्‍नी के पैर तक दबाते थे किरण बेदी के पति, पर अब नहीं कर पा रहे प्रचार


नई दिल्ली,(एजेंसी) 1 फरवरी । किरण बेदी के बीजेपी में आने के बाद दिल्ली की राजनीति में हलचल तेज हो गई है। वे सुर्खियां बटोर रही हैं। इसी बीच, उनके निजी जीवन को लेकर भी कई बातें सामने आ रही हैं। बताया जा रहा है कि वह अपने पति बृज बेदी से अलग रहती हैं। बृज अमृतसर में रहते हैं और किरण दिल्ली में। 75 साल के बृज किरण से करीब 10 साल बड़े हैं।

पंजाब की एक मैगजीन को 2013 में दिए गए इंटरव्यू में किरण बेदी के पति बृज बेदी ने अपनी पत्नी के साथ रिश्तों को लेकर कई खुलासे किए थे। एक सवाल के जवाब में बृज बेदी ने कहा था, ‘मैंने शुरू से तय किया था कि हम लोग (मैं और किरण) ऐसे पति-पत्नी नहीं बनेंगे जहां पत्नी किचन के काम और सिलाई-कढ़ाई में अपना सारा हुनर गंवा दे। मैं ऐसी महिला से शादी ही नहीं करता। हमारे मामले में पहले से तय था कि किरण की पोस्टिंग अक्सर बाहर रहेगी। मैं मानसिक तौर पर विजिटिंग हस्बैंड बनने के लिए तैयार था।’

बृज बेदी ने रिश्ते को लेकर अपने समर्पण के बारे में बताया, ‘जहां प्यार होता है, वहां ईगो नहीं होता। मैं उनके लिए खाना भी बनाता और उनके जूते भी पॉलिश करता था। जब कभी वह थकी होती थीं, तो उनके पैर भी दबाता था। मुझे कभी इन चीजों में कुछ गलत नहीं लगा।’

4114_lo
पति बृज बेदी के साथ किरण बेदी की फाइल फोटो।

राजनीति में भी किरण के साथ हैं बृज बेदी
बीजेपी का दामन थाम कर दिल्ली की चुनावी दंगल में नई हलचल मचाने वाली किरण बेदी के पति बृज बेदी ने बताया, ‘भले ही हम साथ नहीं रहते लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हमारे बीच मतभेद हैं।मैंने किरण से कहा कि मैं इस मामले (राजनीतिक करियर) में आपकी ज्यादा मदद नहीं कर पाऊंगा। इस पर वह बोलीं कि उन्हें केवल मेरा आशीर्वाद चाहिए।”

देश की पहली महिला आईपीएस अफसर किरण को टेनिस खेलने का शौक रहा है। उनकी बृज से पहली मुलाकात भी उसी टेनिस कोर्ट में हुई थी, जहां वह नियमित खेलने जाती थीं। फोटोग्राफी का शौक रखने वाले बृज बेदी अमृतसर में एनजीओ चलाते हैं। बेदी का कहना है कि वह अपनी पत्नी के लिए चुनाव प्रचार करना पसंद करते हैं, लेकिन उम्र अधिक होने के कारण उन्हें ऐसा करने में दिक्कत है। दोनों एक-दूसरे से दूर दिल्ली और अमृतसर में रहते जरूर हैं, लेकिन दोनों के संबंध पहले की तरह मधुर हैं। उन्होंने कहा कि किरण बेदी ने बीजेपी ज्वाइन करने से एक दिन पहले सामान्य बातचीत के दौरान इस बात की जानकारी दी थी।

बृज का कहना है कि किरण काफी सुलझी हुई हैं और गुड गवर्नेंस में विश्वास रखती हैं। वह राजनीति में पैसे कमाने के लिए नहीं आई हैं। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषक मनु सिंघवी के बयान पर एतराज जताते उन्होंने कहा कि किरण 65 साल की हैं लेकिन फिर भी जी-जान से लगी हुई हैं, तो इसमें सिंघवी को क्या समस्या है। एक दिन पहले कांग्रेस नेता ने किरण बेदी को अवसरवादी, अति महत्वाकांक्षी करार दिया था।

बीजेपी में पुख्ता पहचान वाली महिला नेताओं की भरमार
बीजेपी में इन दिनों ऐसी महिला नेताओं की भरमार है, जिनकी पहचान अपने पति से कहीं ज्यादा पुख्ता है। इनमें किरण बेदी के अलावा मीनाक्षी लेखी, स्मृति ईरानी, निर्मला सीतारमण जैसी नेता शामिल हैं। आपने मीनाक्षी के पति अमन लेखी, स्मृति ईरानी के पति जुबिन ईरानी और निर्मला के पति पराकल चंद्रबाबू के बारे में उनकी पत्नी की तुलना में बहुत कम सुना होगा।


Check Also

हैदराबाद निकाय चुनाव : तेलंगाना राष्ट्र समिति ने ओवैसी की पार्टी से अलग होकर सभी 150 सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया

तेलंगाना में हैदराबाद निकाय चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज होती जा रही हैं. भारतीय जनता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *