Home >> Breaking News >> जयंती के कार्यकाल में ‘बाहरी प्रभाव’ का पता लगाएंगे: जावड़ेकर

जयंती के कार्यकाल में ‘बाहरी प्रभाव’ का पता लगाएंगे: जावड़ेकर


65068-prakash5 (1)
नई दिल्ली ,(एजेंसी) 3 फरवरी । केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार को कहा कि पूर्ववर्ती संप्रग सरकार में पर्यावरण मंत्री रहीं जयंती नटराजन के कार्यकाल के दौरान विशिष्ट फाइलों को मंजूरी देने में कथित ‘बाहरी प्रभाव’ के मामलों का सरकार पता लगाएगी।

पूर्ववर्ती संप्रग सरकार में प्रधानमंत्री पर ‘अधिकार विहीन’ होने का आरोप लगाते हुए पर्यावरण मंत्री जावड़ेकर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर केंद्र में उनकी पार्टी के शासन के दौरान महत्वपूर्ण फैसलों में हस्तक्षेप करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उन्होंने (नटराजन ने) कुछ फाइलों का जिक्र किया और कुछ फाइलों का जिक्र नहीं किया लेकिन उन्होंने संकेत दिया कि क्या हो रहा था। बहरहाल, एक बात साफ है कि प्रधानमंत्री (मनमोहन सिंह) कार्यालय में थे लेकिन सत्ता में नहीं थे।

जावड़ेकर ने कहा कि सत्ता 10, जनपथ (सोनिया गांधी का आवास) में केंद्रित थी। इसलिए निश्चित रूप से हम उल्लिखित मामलों को और जिनका संकेत दिया गया, उन मामलों को देखेंगे जहां कथित बाहरी प्रभाव था। हम देखेंगे कि क्या कोई कथित बाहरी प्रभाव डाला गया था। केंद्रीय मंत्री यहां एक समारोह से अलग संवाददाताओं से बात कर रहे थे। नटराजन ने सोनिया को पत्र लिख कर आरोप लगाया था कि उनके पुत्र और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पर्यावरण मंजूरी के लिए उनसे विशेष आग्रह किए थे और इसके बाद उन्होंने बड़ी परियोजनाएं ठुकरा दी थीं। पूर्व में जावड़ेकर ने इसे ‘गंभीर मुद्दा’ बताते हुए कहा था कि वह उन फाइलों की समीक्षा करेंगे जिनके बारे में कथित बाहरी प्रभाव का आरोप लगाया गया है। राहुल और सोनिया पर हमला बोलने के बाद पिछले सप्ताह नटराजन ने पार्टी छोड़ दी थी। जयंती ने दावा किया था कि उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष के आदेशों का पालन किया जिन्होंने बाद में उद्योग घरानों का पक्ष लेते हुए अपना रूख बदल दिया। जयंती ने पार्टी नेतृत्व पर खुद को अपमानित तथा दरकिनार करने का भी आरोप लगाया था।


Check Also

बिहार विधानसभा सत्र : मै भारत के संविधान की शपथ लेना चाहता हु ना कि हिंदुस्तान के संविधान की : AIMIM विधायक अख्तरुल इमान

बिहार विधानसभा सत्र के पहले ही दिन एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमान ने शपथ लेते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *