Saturday , 19 September 2020
Home >> Politics >> प्रदेश सरकार के इरादे नेक नहीं है – मुन्ना चौहान

प्रदेश सरकार के इरादे नेक नहीं है – मुन्ना चौहान


munna_singh

लखनऊ:मो इरफ़ान शाहिद- खबर इंडिया नेटवर्क। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेष अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान ने प्रदेष सरकार पर आरोप लगाते हुये कहा कि यदि प्रदेष सरकार और उसके अफसर प्रदेष की जनता को घरेलू बिजली बिल में सहूलियत देना चाहे तो सम्भव है, लेकिन प्रदेष सरकार द्वारा जनता के प्रति उदासीन रवैया अपनाने के कारण जनहित के कायोर्ं को अनदेखा किया जा रहा है, इससे साबित होता है कि प्रदेष सरकार का इरादा नेक नहीं है और सरकार प्रदेष के विकास पर गम्भीर नहीं है।
मुन्ना सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेष में बिजली व्यवस्था, प्रदेष सरकार तथा सरकारी कम्पनियों के हाथ में है यदि सरकारी बिजली बिल के बकाये की वसूली कर ली जाये तो प्रदेष की जनता को राहत प्रदान किया जा सकता है उन्होंने कहा कि सरकारी विभागों पर ही 10 हजार करोड़ रूपये से अधिक बिजली का बिल बकाया है अगर उसकी वसूली कर ली जाये तो घरेलू उपभोक्ताओं को बिजली दर में भारी छूट प्रदान की जा सकती है तथा बिजली चोरी पर नियंत्रण रखा जाये और सस्ती दर पर बिजली की खरीद की जाये व मंहगी बिजली कम से कम खरीदी जाये तो घरेलू उपभोक्ताओं को काफी सहूलियत होगी जिससे प्रदेष का विकास होगा। उन्हाेंने कहा कि बिजली विषेषज्ञोें के अनुसार यदि लाइन हानियों में 5 फीसदी की कमी कर दी जाये तो उपभोक्ताओं के बिजली की दरों में चौथार्इ कमी की जा सकती है।
मुन्ना सिंह चौहान ने आगे बताया कि प्रदेष सरकार को प्रदेष की जनता को बिजली बिल में राहत प्रदान करने के लिए गम्भीर रूख अपनाते हुये बिजली चोरी पर नियंत्रण की आवष्यकता है तथा सस्ती बिजली की खरीद पर जोर देना चाहिए और सरकारी विभागों पर बकाये बिल की वसूली के लिए आवष्यक कार्यवाही करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को बिजली बिल में राहत प्रदान करने के लिए प्रदेष सरकार को तत्काल कोर्इ पहल करनी चाहिए नहीं तो राष्ट्रीय लोकदल इसका विरोध करने के लिए बाध्य होगा।


Check Also

भारी विरोध के बीच योगी सरकार ने यूपी के गाजियाबाद में खुलने जा रहे डिटेंशन सेंटर का फैसला वापस लिया

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में खुलने जा रहे डिटेंशन सेंटर के मसले पर योगी सरकार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *