Home >> Breaking News >> 7 RCR में मोदी-मांझी की मुलाकात, नीतीश को विधायक दल के नेता की मान्यता

7 RCR में मोदी-मांझी की मुलाकात, नीतीश को विधायक दल के नेता की मान्यता


download (3)
नई दिल्ली/बिहार,(एजेंसी) 8 फरवरी । बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी प्रधानमंत्री आवास पहुंच गए हैं। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनकी मुलाकात होगी। इससे पहले रविवार को जीतन राम मांझी नीति आयोग की पहली बैठक में भी शामिल हुए। दूसरी ओर मांझी के लिए मुश्किलें बढ़ने लगी है। बिहार विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने नीतीश कुमार को विधायक दल के नेता के रूप में मान्यता दे दी है।

इससे पहले बिहार में जारी सत्ता संघर्ष के बीच नीतीश कुमार के समर्थक नेता रविवार को राजभवन पहुंचे और उन्होंने नीतीश समर्थक विधायकों की सूची सौंपी। जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह की अगुवाई में कांग्रेस के विधायक दल के नेता सदानंद सिंह, राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) नेता जितेन्द्र नाथ सिंह राजभवन पहुंचे और विधायकों की सूची सौंपी। राज्यपाल हालांकि अभी कोलकता में हैं और उनके सोमवार को पटना पहुंचने की संभावना है।

समर्थन का पत्र सौंपने के बाद राजभवन से बाहर निकले जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि 130 विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंप दिया गया है और उनसे मिलने का समय मांगा गया है। उन्होंने कहा कि आरजेडी, कांग्रेस और भाकपा के विधायकों के अलावा दो निर्दलीय विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा गया है।

वशिष्ठ नारायण ने कहा कि राज्यपाल को पार्टी विधानमंडल दल की बैठक में नीतीश कुमार को नया नेता चुने जाने की भी जानकारी दे दी गई। सिंह ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष शरद यादव की ओर से मांझी को पत्र लिखकर विधायक दल के नेता पद से हटाए जाने और नीतीश कुमार को नया नेता चुने जाने की सूचना दे दी गई है। जेडीयू महासचिव केसी त्यागी ने भी रविवार को बताया कि नीतीश कुमार के साथ 130 विधायकों का समर्थन है।

विधानसभा में आरजेडी विधायक दल के नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी ने कहा, ‘आरजेडी ने पूर्व में भी जेडीयू सरकार को मुद्दों के आधार पर समर्थन दिया था न कि किसी व्यक्ति को, अब जेडीयू विधायक दल ने नीतीश कुमार को नया नेता चुन लिया है तो पार्टी उन्हीं को समर्थन दे रही है।’

इस बीच, मांझी समर्थक मंत्री विनय बिहारी का कहना है कि मांझी के पास बहुमत है, उन्होंने दावा किया कि शनिवार को विधायक दल की बैठक में शामिल हुए कई विधायक भी उनके संपर्क में हैं। गौरतलब है कि जेडीयू के 20 मंत्रियों ने शनिवार रात राजभवन जाकर अपना इस्तीफा सौंप दिया था।

जेडीयू के वरिष्ठ नेता और नीतीश समर्थक माने जाने वाले श्याम रजक ने बताया कि नीतीश समर्थक 20 मंत्रियों ने राजभवन जाकर सामूहिक इस्तीफा सौंप दिया है। उन्होंने कहा कि मंत्रियों के इस्तीफे का फैसला पार्टी विधायक दल की बैठक में ही हो गया था। इस बीच मुख्यमंत्री मांझी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने जा रहे हैं।

243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में वर्तमान सदस्यों की संख्या 233 है। इसमें बहुमत के लिए कम से कम 117 विधायकों का समर्थन चाहिए।


Check Also

हैदराबाद चुनाव : बीजेपी आलोचकों के दिलों पर राज कर रही और नए क्षेत्रों में जीत हासिल कर रही है : अभिनेत्री कंगना रणौत

हैदराबाद चुनाव पर अभिनेत्री कंगना रणौत ने कांग्रेस पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *