Home >> Breaking News >> पुलिस की पाबंदी को धता बताते हुए तोगड़िया का भाषण सुनाया गया

पुलिस की पाबंदी को धता बताते हुए तोगड़िया का भाषण सुनाया गया


praveen togadiya

बेंगलूरू/नई दिल्ली,(एजेंसी) 9 फरवरी । पुलिस की पाबंदी को धता बताते हुए विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया का रिकॉर्ड किया गया भाषण रविवार को एक रैली में चलाया गया जिसमें उन्होंने धर्म वापसी की और ‘संवैधानिक हिंदू राष्ट्र’ की स्थापना की बात कही।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने कहा, ‘‘हमने इस अवज्ञा का संज्ञान लिया है। हम अपने विधि अधिकारियों से राय लेंगे और आगे कार्रवाई करेंगे।’’ तोगड़िया ने ‘विराट हिंदू समाजोत्सव’ की रैली में अपने रिकॉर्ड किये गये भाषण के जरिये कहा, ‘‘हम सौ करोड़ हिंदुओं के लिए सुरक्षा चाहते हैं। हम हिंदुओं के लिए खुशहाली चाहते हैं. हम हिंदुओं के लिए सम्मान चाहते हैं।’’

सम्मेलन के आयोजकों ने ऑडियो मीडिया, विजुअल मीडिया या किसी भी अन्य माध्यम से भाषण का प्रसारण करने पर रोक के पुलिस के आदेश को अनदेखा करते हुए भाषण चलाया।

तोगड़िया ने भाषण में कहा, ‘‘हम हिंदुओं की संख्या कम नहीं होने देंगे। सरकार को हिंदुओं की सुरक्षा और समृद्धि के लिए सोचना होगा। इसके लिए हमें एक संवैधानिक हिंदू राष्ट्र बनाना होगा।’’ कर्नाटक उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति अब्दुल नजीर ने शुक्रवार को पुलिस आयुक्त के आदेश पर रोक लगाने की कर्नाटक वीएचपी की अंतरिम प्रार्थना को खारिज कर दिया था। पुलिस ने अपने आदेश में पांच से 11 फरवरी तक तोगड़िया के शहर में प्रवेश पर रोक लगा दी थी।

इससे पहले दिन में पुलिस ने बताया कि तोगड़िया तमिलनाडु में होसुर से बेंगलुरू होते हुए अहमदाबाद के लिए रवाना हो गए।

शहर के संवेदनशील इलाकों में और आयोजन स्थल पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी।

तोगड़िया ने कहा ‘‘हमें कोई सहिष्णुता के बारे में न सिखाए. ब्रह्मांड की उत्पत्ति के समय से ही हम सहिष्णु रहे हैं। अगर हम सहिष्णु नहीं होते तो दुनिया भर के लोग यहां आ कर नहीं बसते।’’ उन्होंने कहा ‘‘जो लोग धार्मिक धर्मांतरण करते हैं वह सहिष्णुता के दुश्मन हैं। हिंदुओं ने कभी धर्म के आधार पर धर्मांतरण नहीं किया। हिंदुओं का धर्मांतरण किया गया, अब हिंदुओं का धर्मांतरण नहीं होगा, हम घर वापसी करेंगे।’’

जब तोगड़िया का भाषण चलाया गया तब नेशनल हाईस्कूल ग्राउंड में मौजूद भीड़ ने उनकी तारीफ में नारे लगाये। लोगों ने सिद्धरमैया सरकार के खिलाफ नारे लगाए और उसे शहर में तोगड़िया के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के लिए जिम्मेदार बताया।


Check Also

किसी के बाप की हिम्मत नहीं है वो फिल्म सिटी ले जाए, हम महाराष्ट्र से कुछ भी ले जाने नहीं देंगे : सामना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने राज्य में फिल्म सिटी बनाने की योजना बना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *