Saturday , 28 November 2020
Home >> Breaking News >> तीन बजे राज्यपाल से फिर मिलेंगे जीतनराम मांझी, 7 बजे दिल्ली रवाना होंगे गवर्नर

तीन बजे राज्यपाल से फिर मिलेंगे जीतनराम मांझी, 7 बजे दिल्ली रवाना होंगे गवर्नर


65525-jitan-ram-manjhi
नई दिल्ली,(एजेंसी) 9 फरवरी । बिहार के सीएम जीतन राम मांझी के राजभवन पहुंचने के बाद अब नीतीश कुमार को समर्थन देने वाले विधायकों का दल राजभवन पहुंचा। इस दौरान लालू, नीतीश और शरद यादव राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से मिलने राजभवन के अंदर गए, जबकि बाकी विधायक बाहर खड़े रहे। खबर है कि सीएम मांझी तीन बजे एक बार फिर राज्यपाल से मुलाकात करेंगे, जबकि राज्यपाल खुद शाम 7 बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

बताया जाता है कि नीतीश के समर्थन में कांग्रेस, जेडीयू और आरजेडी के कुल 130 विधायक हैं। इससे पहले मांझी ने भी नरेंद्र सिंह, नीतीश मिश्र और रवीन्द्र राय के साथ राज्यपाल से मुलाकात की, हालांकि, मुलाकात का नतीजा क्या निकला इस बाबत अभी कोई खुलासा नहीं हुआ है,जबकि वह एक बार फिर तीन बजे राज्यपाल से मुलाकात करेंगे।

जेडीयू ने मांझी को निष्कासित किया
बिहार में सत्ता के लिए संग्राम और पार्टी के अंदर घमासान के बीच जेडीयू ने सोमवार को सीएम जीतन राम मांझी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। बताया जाता है कि आगे अगर 48 घंटों के अंदर राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने मांझी को बहुमत साबित करने का मौका नहीं दिया तो नीतीश कुमार अपने समर्थक विधायकों के साथ दिल्ली में राष्ट्रपति के सामने परेड करेंगे, वहीं निष्कासन के ठीक बाद मांझी समर्थक विधायक निष्कासन के विरोध हाई कोर्ट पहुंच गए हैं।

सोमवार सुबह ही बिहार और बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी पटना राजभवन पहुंच चुके हैं। राज्यपाल से सोमवार को जीतन राम मांझी और नीतीश कुमार दोनों ही मुलाकात करेंगे, लेकिन देखना दिलचस्प होगा कि राज्यपाल किसे पहले बहुमत सिद्ध करने का मौका देते हैं, वहीं सूत्रों के हवाले से खबर है कि बहुमत साबित करने के दौरान मांझी को बीजेपी का समर्थन मिल सकता है।

मांझी समर्थक जेडीयू नेता नरेंद्र सिंह ने कहा कि रविवार को मांझी और पीएम नरेंद्र मोदी की मुलाकात सफल रही है और पीएम ने उन्हें आशीर्वाद दिया है। इस बीच मांझी ने भी स्प्ष्ट कहा है कि वह विधानसभा भंग करने के पक्ष में नहीं हैं। बिहार विधानसभा के स्पीकर ने पहले ही नीतीश को मांझी की जगह विधायक दल का नेता घोषित कर दिया है। इसके बाद से ही नीतीश के घर समर्थक विधायकों का तांता लगा हुआ है।

नीतीश सुबह समर्थकों की बैठक लेने के बाद दोपहर डेढ़ बजे राज्यपाल से मिलेंगे जबकि जीतनराम मांझी अभी दिल्ली में हैं। वह रविवार को नीति आयोग की बैठक में हिस्सा लेने दिल्ली पहुंचे थे, हालांकि दोपहर 12 बजे तक वो भी पटना पहुंच जाएंगे। मांझी ने कहा है कि वो राज्यपाल से मुलाकात करेंगे और उनके पास बहुमत होने का दावा पेश करेंगे। मांझी भी दोपहर बाद राजभवन पहुंच सकते हैं।

इससे पहले रविवार को बिहार के सीएम जीतन राम मांझी ने दिल्ली में कहा कि 19 या 20 फरवरी को वो बहुमत साबित कर देंगे. मांझी ने कहा कि वो 34 नए मंत्री बना सकते हैं। मांझी ने दो टूक कहा कि वो इस्तीफा तभी देंगे जब नीतीश बहुमत साबित कर देंगे।


Check Also

कांग्रेस पार्टी किसानो के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है : रणदीप सुरजेवाला

कांग्रेस ने तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली कूच करने की कोशिश कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *