Home >> Exclusive News >> ‘गांधीजी को राष्ट्रपिता का दर्जा देना अनुचित’

‘गांधीजी को राष्ट्रपिता का दर्जा देना अनुचित’


10_02_2015-prach10
अलीगढ़,(एजेंसी)10 फरवरी । विहिप नेता साध्वी प्राची आर्य ने फिर विवादास्पद बयान दिया है। अब उन्होंने कहा है कि महात्मा गांधी को दिया गया राष्ट्रपिता का दर्जा अनुचित है, क्योंकि आजादी पाने के लिए कई दूसरे लोगों ने भी बलिदान दिया था। भारत को स्वतंत्रता दिलाने के लिए गांधीजी को श्रेय देना भी गलत है।

इसके लिए वीर सावरकर और भगत सिंह ज्यादा तारीफ के काबिल हैं। साध्वी प्राची ने कहा है कि जब तक 15 करोड़ लोगों का धर्म परिवर्तन नहीं हो जाता, तब तक ‘घर वापसी’ कार्यक्रम चलता रहेगा। उन्होंने दावा किया कि जिन हिंदुओं ने आजादी के बाद अपना धर्म छोड़ दिया था, उन्हें वापस हिंदू बनाया जाएगा। साध्वी ने कहा कि विहिप हिंदुओं की जनसंख्या बढ़ाने के लिए अपना आंदोलन जारी रखेगा, जो दूसरे धर्मो के मुकाबले काफी तेजी से कम हो गया है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे और भाजपा के सांसद साक्षी महाराज को धमकियां मिली हैं, लेकिन हम भयभीत नहीं हैं और हिंदू समुदाय के लिए काम करना जारी रखेंगे।’ विहिप ने यह भी घोषषणा की कि वह अलीगढ़ का नाम ‘हरीगढ़’ करने का आंदोलन भी जारी रखेगी, जो शहर का मूल नाम भी है। इस सम्मेलन में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के अलावा लोकसभा सांसद सतीश गौतम तथा मेयर शकुंतला भारती मौजूद थे।


Check Also

लखनऊ : मलिन बस्तियों में रहने वालों की इम्युनिटी काफी मजबूत नहीं हुआ कोरोना

राजधानी लखनऊ की पॉश कॉलोनियों में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *