Home >> Exclusive News >> मथुरा में शहीद हेमराज के गांव में ‘टॉयलट घोटाला’

मथुरा में शहीद हेमराज के गांव में ‘टॉयलट घोटाला’


21d49bdbfe619275794301b00a1fba32_full
मथुरा,(एजेंसी)12 फरवरी । पाकिस्तानी सेना के हाथों शहीद हुए लांस नायक हेमराज सिंह के गांव शेरनगर-खिरार में कागजों पर ही 130 शौचालय बना कर ग्राम पंचायत के खाते से साढ़े आठ लाख रूपये की रकम हड़पने के मामले में ग्राम पंचायत के एक अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) आन्द्रे वामसी ने जिला पंचायत अधिकारी राजेंद्र प्रसाद की सिफारिश पर ग्राम पंचायत अधिकारी भगत सिंह को निलंबित कर पूरे प्रकरण की जांच सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) नन्दगांव विकास खण्ड, ब्रजराज सिंह को सौंप दी है।

दो वर्ष पूर्व जब छाता तहसील के शेरनगर-खिरार गांव निवासी लांसनायक हेमराज सिंह जम्मू सीमा पर शहीद हुए थे तब सेना सहित केंद्र और प्रदेश सरकार तथा कई विभागों की ओर से उनके गांव को विकसित करने तथा परिवार को राहत प्रदान करने वाली कई घोषणाएं की गई थीं।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि उनमें से एक योजना के तहत गांव को स्वच्छ बनाने के लिए पहले 251 घरों में शौचालय बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया लेकिन धन के अभाव में बाद में केवल 130 शौचालय निर्माण कराना तय किया गया। इसके लिए ग्राम पंचायत अधिकारी (विकास खण्ड छाता) भगत सिंह ने ग्राम निधि से उक्त धनराशि निकाल ली। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय को कार्य पूरा होने की रिपोर्ट भी दे दी।

किंतु, जब सीडीओ ने समीक्षा बैठक में इस मामले में संदेह जाहिर कर जिला पंचायत राज अधिकारी से जांच कराई तो भगत सिंह दोषी पाए गए, उन्होंने न केवल शौचालयों के लिए मिले धन का गबन किया था बल्कि गलत आंकड़े पेश कर सीडीओ को बहकाने का भी कार्य किया था।

इस पर सीडीओ आन्द्रे वामसी ने उनके विरुद्घ कार्यवाही के आदेश कर दिए, उन्होंने बताया कि दोषी अधिकारी ने इससे पूर्व किसी नोटिस का भी जवाब नहीं दिया था और गबन के बाद भी टालमटोल करने पर अड़ा था।


Check Also

नीतीश को लालू जी का शुक्रगुजार रहना चाहिए जिन्होंने आपको राजनीतिक जीवनदान दिया : राबड़ी देवी

बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव द्वारा नीतीश कुमार के विषय में अमर्यादित तरीके …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *