Home >> Exclusive News >> सीएम ने केंद्र के खिलाफ छेड़ा ‘लेटर-वॉर’

सीएम ने केंद्र के खिलाफ छेड़ा ‘लेटर-वॉर’


download
लखनऊ,(एजेंसी) 17 फरवरी । मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार के खिलाफ ‘लेटर-वॉर’ छेड़ दी है। अब तक यूपी में डिवेलपमेंट के लिए लिखे गए 44 पत्रों पर कोई एक्शन न होने के बाद अब मुख्यमंत्री ने यूपी के सभी सांसदों से मदद मांगी है। उन्होंने पीएम और बनारस से सांसद नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी और बीएसपी प्रमुख मायावती समेत सभी लोकसभा और राज्यसभा को चिट्ठी लिखकर केंद्र सरकार से मदद दिलाने को कहा है।

संसद में घेरने की कोशिश
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सभी सांसदों को चिट्ठी इसलिए लिखी है कि ताकि वह संसद के बजट सत्र में यूपी के विकास के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेर सकें। उन्होंने सभी सांसदों से अपील भी की है कि वह भी केंद्र से मदद दिलाने में उनकी मदद करें।

ये लिखा खत में
आप सब यूपी से जुड़े हैं और आप भी प्रदेश के डिवेलपमेंट को लेकर उतने ही चिंतित होंगे, जितनी यूपी सरकार है। अगर संसद में यूपी का मुद्दा उठता है और केंद्र सरकार कुछ करती है तो यूपी के डिवेलपमेंट के साथ आपके क्षेत्र का भी विकास होगा।

यह है वजह
दरअसल लोकसभा में सपा के सांसदों की संख्या केवल पांच है। मुलायम लोकसभा में सपा के नेता हैं और अब वह जनता दल परिवार के मुखिया भी हैं। इस वजह से अगर यूपी के सभी विपक्षी सांसद उनकी बात का समर्थन करते हैं तो बजट सत्र में यूपी ही मुद्दा होगा।

भेजी पुरानी चिट्ठियों की किताब
मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार की पुरानी चिट्ठियों को कंपाइल कर एक किताब भी छपवाई है। इसमें 44 मामलों का हवाला दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि यूपी सरकार डिवेलपमेंट को लेकर पूरी तरह गंभीर है। इन सभी विषयों को लेकर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री को कई पत्र भी लिखे गए हैं, पर उन पर अब तक कोई एक्शन नहीं हुआ है।

इन योजनाओं को नहीं मिला पैसा
मेट्रो के लिए दो बार पत्र लिखा
सड़कों के सुधार के लिए पांच पत्र
कानपुर में रेल पुल के निर्माण के लिए एनओसी मुद्दा
मैनपुरी रेल लाइन पूरा कराने के लिए दो पत्र रेल मंत्री को
बिजली का केंद्रीय अंश दिलाने
कोल ब्लॉक लिंकेज आवंटित करने
चीनी उद्योग का संकट दूर करने
पिछड़ी जातियों को एससी में शामिल करने
कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा स्थापित करने
बस अड्डों के निर्माण के लिए भी चिट्ठी भेजी गई है


Check Also

लखनऊ : मलिन बस्तियों में रहने वालों की इम्युनिटी काफी मजबूत नहीं हुआ कोरोना

राजधानी लखनऊ की पॉश कॉलोनियों में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *