Saturday , 28 November 2020
Home >> एंटरटेनमेंट >> नाना के दमदार एक्शन भरपूर है “अब तक छप्पन-2”

नाना के दमदार एक्शन भरपूर है “अब तक छप्पन-2”


500x500xmoviereview-bollywood-film-review-ab-tak-chhappan-2-1-54107-54107-ab-tak-chhappan-2-poster.jpg.pagespeed.ic.9oaEDS6df1

नई दिल्ली, एजेंसी) 27 फरवरी । नाना के दमदार एक्शन भरपूर है
फिल्म : अब तक छप्पन-2
निर्माता : राजु, गोपाल दलवी
निर्देशक : एजाज गुलाब
संगीत : अमल मल्लिक
कलाकार : नाना पाटेकर, गुल पनाग, विक्रम गोखले, गोविंद नामदेव, आशुतोष राणा, मोहन आगाशे और राज जुत्शी

निर्देशक शमित अमीन की अब तक छप्पन (2004) ने वक्त और दर्शकों के दिल-दिमाग पर जो छाप छोडी थी, उसकी सीक्वल फिल्म वैसा नहीं कर पाती लेकिन यहां पूरा भार नाना के कंधों पर है। काफी लंबे अर्से बाद इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के बेहद संजीदा नाना पाटेकर ने एक बार फिर अपनी ऎक्टिंग की छाप छो़डी है। इस बार भी नाना ने एनकाउंटर स्पेाशलिस्ट कॉप साधु आगाशे का किरदार निभाया है। करीब चौंसठ साल के नाना ने इस फिल्म में कई ऎसे ऎक्शलन सीन्स भी किए है, जिन्हें देखकर आप चौंक जाएंगे।

कहानी – सीक्वल की स्टोरी पिछली फिल्म से अलग है। पत्नी की हत्या के बाद पुलिस की नौकरी से निलंबित इंस्पेक्टर साधु आगाशे (नाना पाटेकर) अपने बेटे के साथ दूर चला जाता है। इधर, अपराधिक गतिविधियों का खात्मा करने के लिए सरकारी तंत्र को साधु आगाशे की जरूरत पडती है। जबकि आगाशे अब पुलिस में नहीं आना चाहता लेकिन उनका बेटा कहता है कि वह समाज को अपराध से मुक्ति दिला सकते है। बेटे के साथ साधु आगाशे मुंबई आता है और यहीं शुरू होता है नया मिशन।

अब उसे एनकाउंटर स्कवाड का हेड बनाया जाता है। साधु के साथ जर्नलिस्ट शालू दीक्षित (गुल पनाग) भी है। वह आगाशे के जीवन पर किताब लिखना चाहती है। यह जानना चाहते हो कि पूरी छूट मिलने के बाद साधु आगाशे अंडरवर्ल्ड का सामना किस तरह करते है। इस बार वह क्या खोता है और उसकी वापसी के पीछे भी क्या कोई षड्यंत्र है, यह राज फिल्म में धीरे-धीरे खुलता है।

निर्देशन : एजाज गुलाब ने कहानी को ठीक वहीं से स्टार्ट किया जहां करीब एक दशक पहले रामू ने छोडा था। यकीनन रामू की एक हिट फिल्म का सिक्वल बनाना एजाज के लिए काफी चैंलेजिंग रहा होगा। इंटरवल से पहले की फिल्म सुस्त है तो किरदार भी दर्शकों को बांध नहीं पाते, लेकिन इंटरवल के बाद एजाज दर्शकों को कहानी और किरदारों से बांधने में कामयाब रहे।

एक्टिंग : नाना पाटेकर की दमदार वापसी हुई है। अपने जमाने के मशहूर अभिनेता पाटेकर ने उम्दा काम किया है। डायलॉग डिलिवरी के साथ साथ एक्शन सीन में भी नाना बखूबी फिट बैठे है। नाना के ए क्शन सीन दर्शकों को चौंका देंगे। वहीं आशुतोष राणा ने भी शानदार अदाकारी की है। गुल पनाग ने जर्नलिस्ट के किरदार को जिया है। वहीं अन्य कैरेक्टर भी प्रभावित करते दिखे है।

क्यों देखें : यदि आपने फिल्म का पहला भाग देखा है तो इस फिल्म को भी देखिए। वहीं नाना की दमदार वापसी के साथ-साथ कहानी का क्लाइमैक्स आपको अपसेट नहीं करेगा। पिछले कुछ सप्ताह से रिलीज हो रही फिल्मों की तरह इस फिल्म में भी फैमिली क्लास के लिए कुछ नहीं है।


Check Also

दुखद : अभिनेता आशीष रॉय का किडनी फेल होने से निधन

टीवी के जाने माने अभिनेता आशीष रॉय ने मंगलवार को अंतिम सांस ली। आशीष रॉय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *