Home >> Breaking News >> जो काम दिल्ली में होना चाहिए था वो नागालैंड में हुआ: शिवसेना

जो काम दिल्ली में होना चाहिए था वो नागालैंड में हुआ: शिवसेना


Uddhav-Thackeray
नई दिल्ली,(एजेंसी) 09 मार्च । महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने दीमापुर में रेप के आरोपी को जेल से निकालकर मारने की घटना को सही ठहराया है। शिवसेना ने अपने संपादकीय ‘सामना’ में कहा है, ”दिल्ली में निर्भया कांड के आरोपियों के साथ भी ऐसा ही होना चाहिए था”।

‘सामना’ में लिखे गए आज के संपादकीय में नागालैंड में एक कथित बलात्कारी को सरे आम भीड़ द्वारा जेल से निकालकर फांसी देने को जायज ठहराया गया है और कहा गया है कि, ”जो काम दिल्ली में होना चाहिए था वो नागालैंड में हुआ है क्योंकि दिल्ली में निर्भया कांड का आरोपी अब भी जेल में बंद है और कोई हीरो कि तरह आकर इंटरव्यू लेकर कोई बीबीसी जैसा चैनल उसे चला रहा है जिस वजह से वैश्विक स्तर पर देश को शर्मसार होना पड़ा है।”

‘सामना’ में आगे लिखा गया है, ”इसी दौरान नागालैंड में एक बलात्कारी नर पिशाच को सरेआम लोगों ने भरे चौक पर फांसी पर लटका दिया। अब लोग कह रहे हैं कि इस घटना की वजह से कानून व्यवस्था का बाजा बज गया ये बताओ कि जहां हजारों की संख्या में भीड़ इकट्ठी हो जाए वहां 20 से 25 सुरक्षाकर्मी क्या करेंगे? अगर वो गोली भी चलाये तो मानवता बीच में आ जायेगी और अब बेवजह वहां के पुलिस अधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर निशाना बनाया जा रहा है।”

‘सामना’ में कहा गया है, ”कई बार राजनेता बलात्कार के सन्दर्भ में कहते रहे है कि इस तरह के आरोपी को सरे आम फांसी दे गदी जानी चाहिए, लेकिन आज जब दीमापुर में लोगो ने आक्रोश में आकार उसे अंजाम दे दिया है तो कोई राजनेता का मुंह नहीं खुल रहा है।”

‘सामना’ में दीमापुर की घटना पर आगे कहा गया है कि, ”दरअसल जो दीमापुर में हुआ वो क्या है सचमुच हिंसक है या तालिबानी कानून इसे समझना चाहिए, क्योंकि रोज सैकडों-हजारों बांग्लादेशी घुसपैठिये बांग्लादेश से असम और नागालैंड में पैठ बना रहे हैं और यही नहीं हिन्दुस्तानी मां बहन-बेटियों की अस्मत को लूट लिया उस बात का गुस्सा था जो जनाक्रोश बनाकर फूटा है। इस घटना ने सिर्फ बलात्कार नहीं बल्कि घुसपैठ को लेकर लोगों के संताप का बांध तोड़ दिया।”


Check Also

किसान आन्दोलन : खट्टर सरकार को लगा बड़ा झटका, निर्दलीय विधायक ने सरकार से समर्थन वापस लिया सबकी नजरे दुष्यंत चौटाला पर

किसानों के प्रदर्शन के बीच हरियाणा में मनोहर खट्टर सरकार को झटका लगा है. निर्दलीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *