Home >> Breaking News >> जवाबदेह सरकार के लिए मोदी को समर्थन : बेदी

जवाबदेह सरकार के लिए मोदी को समर्थन : बेदी


kiran bedi

नई दिल्ली,एजेंसी। टीम अन्ना की महत्वपूर्ण सदस्य किरण बेदी खुलकर बीजेपी के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के पक्ष में आ गई हैं। किरण बेदी ने लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी को वोट देने की बात कही है। बेदी बीजेपी के प्रति नरम रुख के लिए जानी जाती हैं। वहीं बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि किरण बेदी और वी के सिंह को बीजेपी से जुड़ना चाहिए और लोकसभा उम्मीदवार बनना चाहिए।
किरण बेदी ने ट्वीट कर के कहा है कि ‘लोकसभा चुनाव में उनका वोट एक स्थिर और जिम्मेदार सरकार के लिए होगा और उनका वोट नरेंद्र मोदी को जाएगा।’ बता दें कि किरण बेदी ने ही दिल्ली में सरकार बनने के दौरान आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी को मिलकर सरकार बनाने का सुझाव दिया था। हालांकि आप ने इस सलाह को ठुकरा दिया था।
किरण बेदी ने कहा कि उनका समर्थन अनुभवी सरकार को है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में उनके पास एक ही विकल्प है और वह है भारतीय जनता पार्टी। किरण बेदी ने एक टीवी चैनल को बताया, कि मेरा समर्थन अनुभवी शासन को है। मेरा समर्थन संयुक्त भारत को है जो शहर और गांव को नहीं बांटता हो। मेरा समर्थन इस देश के विकास, एकता और अखंडता को है। अगर हमें एक त्रिशंकु सरकार मिलती है तो हम कहां जाएंगे?। उन्होंने कहा कि मोदी को मेरा समर्थन एक सशक्त, एकजुट, जवाबदेह और स्थिर सरकार के लिए है।
पूर्व भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी बेदी ने कहा कि वह एक ऐसी पार्टी की राह देख रही हैं जो देश का नेतृत्व कर सके और उसे स्थिरता दे। हालांकि, उन्होंने निकट भविष्य में किसी भी राजनीतिक दल में शामिल होने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि नहीं, मैं किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल नहीं हो रही हूं। मुझे अपनी स्वतंत्र आवाज से प्यार है।
आप के नेता कहते रहे हैं कि अन्ना हजारे बीजेपी समर्थक लोगों से घिरे हुए हैं। ऐसे में किरण बेदी का ये ट्वीट उनके इस बयान की पुष्टि ही कर रहा है। हाल ही में लोकसभा में पास लोकपाल बिल का आप नेताओं ने विरोध किया था, लेकिन बीजेपी ने इसे लोकसभा में समर्थन दिया था। इस पर अन्ना ने कांग्रेस-बीजेपी दोनों को धन्यवाद दिया था।
अरविंद केजरीवाल के राजनीतिक दल बनाकर राजनीति में कूदने के बाद अन्ना और उनके बीच मतभेद पैदा हो गए थे। अन्ना ने केजरीवाल को अपना नाम और अपनी तस्वीर तक न इस्तेमाल करने की हिदायत दी थी। दिल्ली चुनावों के दौरान इंडिया अगेंस्ट करप्शन के फंड को लेकर भी केजरीवाल और अन्ना में मतभेद सामने आए। इन तमाम विवादों के बावजूद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने दिल्ली चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया और कांग्रेस की मदद से सरकार बना ली। शपथ ग्रहण समारोह में टीम अन्ना का कोई भी सदस्य नहीं आया।


Check Also

बीजेपी के राज में देश की GDP गिर रही है, हम आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं : RJD नेता तेजस्वी यादव

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा, महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा है। भाजपा के लोग प्याज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *