Home >> Breaking News >> ‘आप’ ने बताई प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को PAC से निकालने की वजह

‘आप’ ने बताई प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को PAC से निकालने की वजह


kejri yogendra prashant
नई दिल्ली,(एजेंसी) 10 मार्च । आम आदमी पार्टी ने योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को पीएसी से निकालने जाने पर पहली बार सार्वजनिक तौर पर सफाई दी है। पार्टी ने कहा है कि प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने अरविंद केजरीवाल की छवि खराब करने की कोशिश की, इसलिए उन्हें पीएसी से निकाला गया।

कल आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने दोनों को पार्टी से निकालने की मांग की थी आप की तरफ से मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, गोपाल राय और पंकज गुप्ता ने बयान जारी करके प्रशांत भूषण औऱ योगेंद्र यादव को पीएसी से निकालने की वजह बताई है।

4 मार्च को आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक में पार्टी में आये गतिरोध को दूर करने के लिए श्री योगेन्द्र यादव व श्री प्रशांत भूषण को PAC से मुक्त करके नई जिम्मेदारी देने का निर्णय लिया गया।

क्या वजहें बताईं हैं आप ने

1- कार्यकर्ताओं को प्रचार से रोका
आम आदमी पार्टी ने कहा कि प्रशांत भूषण ने दूसरे प्रदेशों के कार्यकर्ताओं को फ़ोन कर कर के दिल्ली में चुनाव प्रचार करने आने से रोका। प्रशांत जी ने दूसरे प्रदेशों के कार्यकर्ताओं को कहा “मैं भी दिल्ली के चुनाव में प्रचार नहीं कर रहा। आप लोग भी मत आओ। इस बार पार्टी को हराना ज़रूरी है, तभी अरविन्द का दिमाग ठिकाने आएगा।” आम आदमी पार्टी के मुताबिक इस बात की पुष्टि अंजलि दमानिया भी कर चुकी हैं की उनके सामने प्रशांत जी ने मैसूर के कार्यकर्ताओं को ऐसा कहा।

2- प्रशांत ने लोगों को चंदा देने से रोका
आम आदमी पार्टी ने प्शांत भूषण पर आरोप लगाया है कि प्रशांत लोगों को पार्टी फंड में चेदा देने से रोक रहे थे।

3- पार्टी को दिल्ली में हराना चाहते थे
चुनाव के करीब दो सप्ताह पहले जब आशीष खेतान ने प्रशांत जी को लोकपाल और स्वराज के मुद्दे पर होने वाले दिल्ली डायलाग के नेतृत्व का आग्रह करने के लिए फ़ोन किया तो प्रशांत जी ने खेतान को बोला कि पार्टी के लिए प्रचार करना तो बहुत दूर की बात है वो दिल्ली का चुनाव पार्टी को हराना चाहते है। उन्होंने कहा कि उनकी कोशिश यह है की पार्टी 20-22 सीटों से ज्यादा न पाये, पार्टी हारेगी तभी नेतृत्व परिवर्तन संभव होगा।

4- पार्टी को बर्बाद करने की धमकी दी
आप ने दावा किया है कि पूरे चुनाव के दौरान प्रशांत जी ने बार-बार ये धमकी दी कि वे प्रेस कांफ्रेंस करके दिल्ली चुनाव में पार्टी की तैयारियों को बर्बाद कर देंगे। उन्हें पता था की आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर है। अगर किसी भी पार्टी का एक वरिष्ठ नेता ही पार्टी के खिलाफ बोलेगा तो जीती हुई बाजी भी हार में बदल जाएगी।

5- योगेंद्र ने केजरीवाल के खिलाफ नेगेटिव खबरें छपवाईं
आप ने दावा किया है लकि पार्टी के पास तमाम ऐसे सबूत है जो दिखाते है की कैसे अरविंद की छवि को ख़राब करने के लिए योगेन्द्र यादव जी ने अखबारों में नेगेटिव ख़बरें छपवायी। आप ने जो वक्तव्य जारी किया है उसके मुताबिक इसका सबसे बड़ा उदाहरण है अगस्त माह 2014 में दी हिन्दू अख़बार में छपी खबर जिसमे अरविंद और पार्टी की एक नकारातमक तस्वीर पेश की गयी। जिस पत्रकार ने ये खबर छापी थी, उसने पिछले दिनों इसका खुलासा किया कि कैसे यादव जी ने ये खबर प्लांट की थी। प्राइवेट बातचीत में कुछ और बड़े संपादकों ने भी बताया है कि यादव जी दिल्ली चुनाव के दौरान उनसे मिलकर अरविंद की छवि खराब करने के लिए ऑफ दी रिकॉर्ड बातें कहते थे।

5- ‘आवाम’ को प्रशांत का समर्थन
आप ने आरोप लगाया है कि ‘अवाम’ भाजपा द्वारा संचालित संस्था है। ‘अवाम’ ने चुनावों के दौरान आम आदमी पार्टी को बहुत बदनाम किया. ‘अवाम’ को प्रशांत भूषण ने खुलकर सपोर्ट किया था। शांति भूषण जी ने तो ‘अवाम’ के सपोर्ट में और ‘आप’ के खिलाफ खुलकर बयान दिए।

आरोप पर क्या कहना है योगेंद्र का
आम आदमी पार्टी के इन आरोपों पर योगेंद्र यादव ने कहा कि यह बहुत अच्छा हुआ कि पार्टी ने इन आरोपों को सार्वजनिक किया। योगेंद्र ने कहा कि जो बयान आया और इस पर जो हम जवाब देंगे उसे पार्टी कार्यकर्ताओं के सामने रखा जाए और इस पर उनकी जो राय हो उसे वेबसाइट पर जगह दी जाए।

इसके साथ ही योगेंद्र ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी से हटाए जाने के सवाल पर योगेंद्र ने कहा कि पार्टी में इसके लिए एक प्रक्रिया है। अगर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के किसी सदस्य पर कोई आरोप हो तो उसके लिए पार्टी में एक लोकपाल है और वह खुद चाहते हैं कि अगर ऐसा कोई मामला आए तो वह उसकी जांच करेंगे। योगेंद्र ने कहा कि आप उनसे जांच करवालें, सच ही जीतेगा।


Check Also

ठण्ड का सितम दिल्ली में सोमवार को न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना : मौसम विभाग

मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को भी न्यूनतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *