Wednesday , 2 December 2020
Home >> Breaking News >> लैंड बिल पर झुकी सरकार, बदलाव करने को तैयार

लैंड बिल पर झुकी सरकार, बदलाव करने को तैयार


4decpm
नई दिल्ली,(एजेंसी) 10 मार्च । भूमि अधिग्रहण बिल पर आज लोकसभा में वोटिंग होने के आसार हैं। इससे पहले इस पर सदन में बहस होनी है। बीजेपी ने सभी सांसदों को लोकसभा में रहने का व्हिप जारी किया है। इससे पहले वेंकैया नायडू ने एनडीए के सहयोगियों के साथ इस मुद्दे पर बात की। पैठक में शिवसेना और अकाली दल भी शामिल थी। ये दोनों दल मौजूदा बिल के प्रावधानों पर विरोध जता चुके हैं। नायडू ने शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे से भी फोन पर बात की।

उधर, विपक्ष के कड़े तेवरों को देखते हुए नरेंद्र मोदी सरकार जमीन अधिग्रहण कानून में कुछ अहम बदलाव करने पर विचार कर रही है। सरकार का दावा है कि औद्योगिक कॉरिडोर, डैम, हाईवे जैसी विकास परियोजनाओं के लिए ये बिल जरुरी है इसलिए वो विपक्ष के कई सुझावों को शामिल करने को तैयार है। सूत्रों के मुताबिक सरकार कई अहम बदलावों को मंजूर कर सकती है।

भूमि अधिग्रहण बिल में सरकारी संशोधन की संभावना
1. रेलवे लाइन और हाइवे के दोनो तरफ एक किलोमीटर तक भूमि अधिग्रहण नहीं।
लैंड बिल पर झुकी सरकार, बदलाव करने को तैयार
2. राज्य सरकारे लैंड बैंक बनाएं जिन्हें विकास की परियोजनाओं के लिए इस्तेमाल किया जा सके।
3. सरकारें एक ऐसी प्रक्रिया शुरू करे जिसमें बिना अड़चन के उनकी शिकायतें सुनी जा सकें।
4. अधिग्रहित की गए जमीन में काम करने वाले हर खेतीहर मजदूर को भी नौकरी देना अनिवार्य हो।
5. अगर फैसले से शिकायत हो तो जिला स्तर पर ही उसे दूर करने का सिस्टम होगा।
6. बिल में सरकार ने किसानों को शिकायत होने पर हाई कोर्ट ने का प्रस्ताव रखा था। इसका भी संशोधन होगा।
7. सामाजिक क्षेत्र में बुनियादी ढांचे में पीपीपी मॉडल को मिली छूट में संशोधन।

उधर, लोकसभा में लैंड बिल पर बहस के मद्देनजर बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को सदन में मौजूद रहने का व्हिप जारी किया है। टीएमसी के दिनेश त्रिवेदी ने लैंड बिल को स्टैंडिंग कमेटी को भेजने की मांग की। वहीं एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने कहा कि उनकी पार्टी बिल का समर्थन करेगी। वहीं सूत्रों के मुताबिक बीजेडी इस बिल का समर्थन करने को तैयार है बशर्ते इसमें जमीन मालिकों की सहमति से जुड़े कुछ और बदलाव किए जाएं।


Check Also

सीएम पिनाराई विजयन के लिए बड़ी चुनौती बन सकती है केरल की राजनीति

विपक्ष ने मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की सरकार के नेतृत्व और सत्तारूढ़ दल को चुनौती देने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *