Sunday , 16 December 2018
खास खबर
Home >> Politics >> भाजपा का कांग्रेस पर बड़ा हमला, बिचौलिए मिशेल के भारत आने से उड़ी कांग्रेस की नींद

भाजपा का कांग्रेस पर बड़ा हमला, बिचौलिए मिशेल के भारत आने से उड़ी कांग्रेस की नींद


3600 करोड़ के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के भारत लाने के बाद से भाजपा लगातार कांग्रेस पर हमलावर है। भाजपा ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर एक के बाद एक कई हमले किए। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि मिशेल के भारत आने कांग्रेस की नींद उड़ गई है।

10 जगपथ के कहने पर मिशेल की बचाने की हो रही कोशिश
पात्रा ने कहा कि मोदी सरकार की कोशिश से मिशेल को भारत लाया जा सका है, लेकिन मिशेल के भारत आने से कांग्रेस को बहुत दुख हुआ है। मिशेल मामले पर कांग्रेस की बौखलाहट ने कांग्रेस का दोहरा चेहरा सबके सामने ला दिया है। कांग्रेस पर बड़ा हमला करते हुए भाजपा ने आरोप लगाया कि 10 जनपथ के कहने पर मिशेल को बचाने की कोशिश की जा रही है।

जोसेफ को पार्टी से बाहर निकालना कांग्रेस का ड्रामा
संबित ने कहा कि कांग्रेस के वकील ही बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं, जोसफ के केस लड़ने पर भी सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि जोसफ को ‘किसी’ ने केस लड़ने को कहा। आखिर यह ‘किसी’ कौन है? क्रिश्चियन मिशेल मामले से जुड़े एक वकील को पार्टी से बाहर करना, कांग्रेस का महज एक ड्रामा है।

पात्रा ने कहा कि अल्जो जोसेफ के अलावा मिशेल मामले की पैरवी कर रहे दो अन्य वकीलों का भी कांग्रेस से नाता है। विष्णु शंकर केरल कांग्रेस नेता के बेटे हैं, जबकि श्रीराम प्रकट एनएसयूआई के सदस्य रह चुके हैं। तीनों कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वकील सलमान खुर्शीद व कपिल सिब्बल के आधीन काम कर चुके हैं। 
 

जोसेफ पर बवाल के बाद कांग्रेस ने पार्टी से निकाला 


दरअसल, वकील अल्जो के जोसेफ मिशेल की पैरवी कर रहे हैं। मिशेल की पेशी के बाद उसके वकील अल्जो के जोसेफ कांग्रेस मुख्यालय में दिखाई दिए। जिसके बाद यह खबर सामने आई कि वे भारतीय युवा कांग्रेस में लीगल डिपार्टमेंट के नेशनल इंचार्ज हैं। मामले के तूल पकड़ने के बाद कांग्रेस ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया है। वहीं, इस विवाद पर जोसेफ ने कहा, ‘ मैं एक वकील हूं अपने पेशे के तहत मैंने इस केस में मिशेल की तरफ से पैरवी की, अपने पेशे के दौरान अगर मैं किसी मुवक्किल की पैरवी करता हूं, तो यह मेरी ड्यूटी है।

उस वक्त मेरा किसी पार्टी (कांग्रेस) से कोई लेना-देना नहीं होता। मीडिया से बातचीत में जोसेफ ने आगे बताया कि, ‘मेरे संबंध कांग्रेस से अलग हैं और मेरा पेशा अलग है। मैं अपने एक दोस्त के माध्यम से इटली के एक वकील के संपर्क में आया जिससे मुझे इस मामले में मिशेल की पैरवी करने का मौका मिला इसलिए मैxने इसे सहजता से स्वीकार किया।


Study Mass Comm