Sunday , 25 August 2019
खास खबर
Home >> My View >> पैसा खर्च करने के बाद भी उभोक्ताओं को नहीं मिल रहा है बेहतर नेटवर्क

पैसा खर्च करने के बाद भी उभोक्ताओं को नहीं मिल रहा है बेहतर नेटवर्क


अब हम देश के 65 करोड़ मोबाइल उपभोक्ताओं के साथ हो रहे धोखे का विश्लेषण करेंगे . हमारे देश की टेलिकॉम कंपनियां बेहतर नेटवर्क के नाम पर करोड़ों ग्राहकों को ठग रही हैं . सवा पांच लाख करोड़ रुपये के साथ भारत, दुनिया का सबसे तेज़ी से बढ़ता हुआ टेलिकॉम बाज़ार है .

यानी देश की टेलिकॉम कंपनियां मुनाफे के ऊंचे ऊंचे टावर पर बैठी हैं लेकिन ग्राहकों को देने के लिए इनके पास बेहतर नेटवर्क नहीं है . आपने अक्सर मोबाइल फोन पर बात करते हुए अचानक फोन कट जाने या फोन न मिलने वाली समस्या का सामना किया होगा . टेलिकॉम की भाषा में इसे Call Drop और Call Connect वाली समस्या कहते है . 

एक सर्वे के मुताबिक देश के करीब 90% मोबाइल उपभोक्ता Call Drop और Call Connect वाली समस्या से परेशान हैं . 

देश के 72% लोगों का मानना है कि कमज़ोर मोबाइल नेटवर्क की वजह से Call Drop की समस्या आती है . यानी उनके फोन बीच में ही कट जाते हैं. 

Call Drop की समस्या से परेशान होकर करीब 30 प्रतिशत लोग इंटरनेट कॉल की मदद से फोन पर बात करते हैं . 

लेकिन इंटरनेट की स्पीड के मामले में भी देश की टेलिकॉम कंपनियां बहुत पीछे हैं . उनका सारा ध्यान और सारा पैसा अपने नेटवर्क को बेहतर बनाने के बजाए आर्कषक विज्ञापन बनाने में लगा हुआ है . 

Telecom Regulatory Authority of India यानी TRAI की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश की टेलिकॉम कंपनियां Call Drop की समस्या के सामने नाकाम साबित हुई हैं. लेकिन इसके बावजूद देश के सिस्टम के पास इसे ठीक करने का कोई कारगर उपाय नहीं है . देश के लोगों के सामने एक तरफ Call Drop वाली समस्या है तो दूसरी तरफ Spam Calls वाली समस्या बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है. कई बार आपके फोन पर लोन, Real Estate या मोबाइल कनेक्शन बदलने के लिए बहुत सी अनचाही Calls आती होंगी. इन Phone Calls से परेशान होकर आप इन कंपनियों को बार-बार मना करते हैं, लेकिन इसके बावजूद इस तरह के फोन आने का सिलसिला रुकता नहीं हैं . 

आपको जानकर हैरानी होगी कि 91% अनचाहे फोन Calls टेलिकॉम कंपनियों की तरफ से ही आते हैं . और ज्यादातर Calls नए Offers या कनेक्शन बदलने के लिए होते हैं. 

इन कंपनियों की हिम्मत देखिये… कमज़ोर नेटवर्क के बावजूद ये पूरे आत्मविश्वास के साथ अपना कनेक्शन बेच रही हैं. वैसे ये समस्या अकेले भारत की नहीं बल्कि दुनिया के कई देशों की है. 

दुनिया के 20 देशों में हुए एक सर्वे के मुताबिक Spam Calls के मामले में भारत, ब्राज़ील के बाद पूरी दुनिया में दूसरे नंबर पर है. कुल मिलाकर देश की टेलिकॉम कंपनियां.. करोड़ों ग्राहकों के धैर्य की परीक्षा ले रही हैं और हमारा सिस्टम बड़ी ख़ामोशी के साथ ये सब देख रहा है . 


Study Mass Comm