Tuesday , 23 April 2019
खास खबर
Home >> मुद्दा यह है कि >> मुख्यमंत्री के आगमन की तिथि तय होते ही तेज हो जाएगी कवायद। कमिश्नर, डीएम ने किया सिकंदरा वाटर वक्र्स का निरीक्षण

मुख्यमंत्री के आगमन की तिथि तय होते ही तेज हो जाएगी कवायद। कमिश्नर, डीएम ने किया सिकंदरा वाटर वक्र्स का निरीक्षण


गंगाजल बस आपके द्वार पहुंचने ही वाला है। 2019 की शुरूआत में आपके घर तक गंगा का पवित्र जल पहुंच जाएगा। गंगाजल की क्लीनिंग का कार्य पूरा हो चुका है। बस अब इंतजार है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन का। अधिकारियों के अनुसार सीएम के आगमन की तिथि तय होते ही कवायदें तेज हो जाएंगी। सीएम के उद्घाटन करने के बाद गंगा की जलधारा शहरों के घरों तक पहुंचनी शुरू हो जाएगी। संभावना नये वर्ष के पहले सप्ताह की बताई जा रही है।

गंगाजल प्रोजेक्ट का निरीक्षण करने के लिए शुक्रवार को मंडलायुक्त अनिल कुमार, जिलाधिकारी एनजी रवि कुमार और अपर मंडलायुक्त विजय कुमार सिकंदरा वाटरवक्र्स पर एमबीबीआर प्लांट के निरीक्षण को पहुंचे। यहां चल रहे कार्य को देखकर उन्होंने हर्ष व्यक्त किया। 

बता दें कि शहरवासियों की प्यास बुझाने को बुलंदशहर से आगरा तक 130 किमी लंबी पाइप लाइन डाली गई थी। यह पाइप लाइन कैलाश मंदिर पर दो टुकड़ों सिकंदरा वाटर वक्र्स और जीवनी मंडी वाटर वक्र्स में बंट जाती है। सिकंदरा वाटर वक्र्स से 144 एमएलडी और जीवनी मंडी वाटरवक्र्स से 200 एमलडी गंगाजल मिल सकेगा। ताजनगरी की धरती पर गंगाजल नवंबर के अंतिम सप्ताह में ही पहुंच चुका था। उस वक्त गंगाजल को यमुना में छोड़ दिया गया था। इसके करीब सप्ताहभर बाद गंगाजल की क्लीनिंग शुरू हुई। अब पाइप लाइन के माध्यम से घरों तक गंगा की धारा पहुंच सके, इसके लिए गंगाजल की क्लीनिंग पूरी हो चुकी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले सप्ताह से गंगजाल की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।


Study Mass Comm