Wednesday , 25 November 2020
Home >> Breaking News >> ‘किसानों के समर्थन में है मार्च’ : सोनिया गांधी

‘किसानों के समर्थन में है मार्च’ : सोनिया गांधी


sonia 3
नई दिल्ली,(एजेंसी) 17 मार्च । भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ विपक्ष की अगुवाई कर रहीं सोनिया गांधी के साथ डेढ़ सौ से दो सौ सांसद पैदल राष्ट्रपति भवन पहुंचे इन पार्टियों की राज्यसभा में ताकत 130 सांसदों की है जिन्होंने बिल के खिलाफ मोदी सरकार की नाक में दम कर रखा है।

संसद से शुरू हुआ मार्च राष्ट्रपति भवन पर जाकर खत्म हुआ। शाम सवा पांच बजे सोनिया के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद थे तो नानुकुर के बाद एनसीपी भी साथ आ गई। समाजवादी पार्टी, जेडीयू, आरजेडी के साथ टीएमसी और लेफ्ट के सांसद भी कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे थे।

करीब ढाई सौ मीडिया कर्मी। वीआईपी नेताओं की सुरक्षा में लगे करीब सौ जवान और सरकार के लगाए करीब दो सौ सुरक्षाकर्मियों के बीच माननीय सांसद राष्ट्रपति भवन पहुंचे। राष्ट्रपति से सिर्फ छब्बीस सांसदों से मिलने की इजाजत थी इसलिए बाकी सांसद राष्ट्रपति भवन के परिसर में इंतजार करते रहे। मोदी सरकार का ये अध्यादेश पांच अप्रैल को खत्म हो रहा है। विपक्ष चाहता है कि सरकार अगर भूमि अधिग्रहण पर दूसरा अध्यादेश लाए तो राष्ट्रपति उसे मंजूर न करें।

इससे पहले विपक्ष के इस पैदल मार्च को लेकर संसद में जबरदस्त हंगामा हुआ। दिल्ली पुलिस ने पहले ये कहते हुए पैदल मार्च की इजाजत से इनकार कर दिया था कि संसद भवन के आसपास धारा 144 लागू है, लिहाजा सांसदों को पैदल जुलूस निकालने की इजाजत नहीं दी जा सकती, हालांकि बाद में विपक्ष को पैदल मार्च की अनुमति मिल गई।

मार्च के दौरान सोनिया गांधी ने कहा, “हमने किसानों के समर्थन पर 14 पार्टियों के साथ मार्च किया है।ये किसानों के समर्थन में है मार्च।”

सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि हम राष्ट्रपति से कहेंगे कि वे हमारी बातें भी सुनें।

विपक्ष का कहना था कि लोकसभा में भले ही पारित हो गया लेकिन राज्यसभा में बिल पारित नहीं होने दिया जाएगा।


Check Also

भारत ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस लैंड अटैक वर्जन का सफल परीक्षण किया

भारत ने अपनी सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के लैंड अटैक वर्जन का आज सफल परीक्षण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *