Home >> Breaking News >> मैं जवाबदेही लेने को तैयार : Rahul

मैं जवाबदेही लेने को तैयार : Rahul


rahulनई दिल्ली,एजेंसी | कांग्रेस का प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी बनने में आनाकानी के संदेहों को दूर करते हुए राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि वह पार्टी के हर आदेश को मानेंगे और पूरी क्षमता के साथ भावी जिम्मेदारियों का निर्वाह करेंगे। राहुल ने कहा है कि उनकी पार्टी को 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद ‘देश हित’ में सत्ता में आना होगा। राहुल ने इस धारणा का भी खंडन किया कि वह शर्मीले राजनेता हैं।

गांधी (43) ने कहा कि पार्टी को युवाओं से और ज्यादा जुड़ने की जरूरत है और यह भी कहा कि उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा चुनाव नहीं लड़ेंगी। आम आदमी पार्टी के कुछ तरीकों से असहमति जताते हुए गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी की इस वर्ष होने जा रहे लोकसभा चुनाव में ‘व्यक्तिवादी सत्ता की चाहत’ की भी आलोचना की। उन्होंने जोर देकर कहा कि वे पार्टी द्वारा लिए जाने वाले फैसले को स्वीकार करने के लिए तैयार हैं।

कोई भी जिम्मेदारी स्वीकार करने के लिए तैयार रहने की गांधी टिप्पणी राजनीतिक का राजनीतिक गलियारे में अत्यंत अहम मानी जा रही है, क्योंकि यह बयान अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की बैठक से ठीक पहले दिया गया है। उम्मीद की जा रही है इसी बैठक में पार्टी राहुल गांधी को अपना प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी घोषित करेगी।

उन्होंने कहा, “राष्ट्र के हित में यह आवश्यक है कि कांग्रेस सत्ता में लौटे। और इसके लिए संगठन मुझे जो भी जवाबदेही सौंपती है या भविष्य में देती है, मैं उसका पूरी क्षमता के साथ निर्वाह करूंगा।” उन्होंने कहा, “हम लोकतांत्रिक संगठन हैं और हमारा लोकतंत्र में भरोसा है। भारत के लोग अपने जनप्रतिनिधियों के जरिए अपने प्रधानमंत्री का चुनाव करते हैं।” एक अन्य सवाल के जवाब में राहुल ने कहा, “मैं कांग्रेस का एक सिपाही हूं। मुझे जो भी आदेश मिलेगा मैं उससे बंधा हुआ रहूंगा। कांग्रेस जो भी मुझे कहेगी मैं उसे पूरा करूंगा।”

कांग्रेस में राहुल को प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी बनाने की मांग ने जोर पकड़ लिया है। पार्टी की नेता अंबिका सोनी ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस में राहुल को प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी बनाए जाने की मांग ने जोर पकड़ लिया है। सदस्यों का मानना है कि इससे अप्रैल-मई माह में होने जा रहे लोकसभा चुनाव पार्टी की संभावना बलवती होगी। सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने कहा कि पार्टी लगातार यह मानती आई है कि राहुल उसके स्वाभाविक नेता है।


Check Also

26 दिन बाद कोरोना की रफ्तार में लगी ब्रेक, लेकिन मौत का तांडव जारी…

कोरोना की दूसरी लहर में रोजाना सामने आने वाले नए मामलों में बीत कुछ दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *