Home >> Breaking News >> राष्ट्रीय सावधान रैली में उमड़े देश भर के बसपाई

राष्ट्रीय सावधान रैली में उमड़े देश भर के बसपाई


bsp railly
लखनऊ,खबर इंडिया नेटवर्क। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने बुधवार को कांग्रेस-भाजपा-सपा पर चौतरफा हमला करते हुए कहा कि बसपा के बढ़ते वर्चस्व को रोकने के लिए तीनों पार्टियों अंदरखाते एक हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सपा सरकार ने सत्ता में आते ही बसपा की कई जनहित योजनाओं का बंद कर दिया। उत्तर प्रदेश अब क्राइम प्रदेश बन गया है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में बसपा किसी भी पार्टी के साथ समझौता नहीं करेगी। उन्होंने बसपा को इन चुनावों में विजयी बनाने के लिए कार्यकर्ताओं से जीजान से जुट जाने का आह्वान किया।
अपने 58वें जन्मदिन पर रमाबाई अंबेडकर मैदान में आयोजित बसपा की राष्ट्रीय सावधान रैली में पार्टी प्रमुख मायावती ने कहा कि बसपा के खिलाफ कांग्रेस-भाजपा-सपा एक साथ हैं। उन्होंने कहा कि 2003-06 तक पार्टी संकट में थी। उन्होंने कहा कि 2003 में सीटों के बंटवारे को लेकर भाजपा के साथ गठबंधन टूटा था, क्योंकि 2004 के चुनाव में गठबंधन के नाम पर भाजपा प्रदेश की 80 में से 60 सीटें चाहती थी। मैं भाजपा की इस मांग के खिलाफ थी, क्योंकि इससे बसपा के अस्तित्व पर संकट आ जाता। मैं स्वाभिमानी लड़की हूं, इसलिए मैं उनकी मांग पर नहीं झुकी।
माया ने कहा कि मेरे खिलाफ सीबीआइ का दुरुपयोग किया गया और मेरे खिलाफ गलत आरोप लगाए गए। मैं सांप्रदायिक शक्तियों के सख्त खिलाफ हूं। जब बसपा मुश्किल में थी तो स्वार्थियों ने उसे छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि बसपा उम्मीदवारों को हराने के लिए सन् 2009 में सपा-कांग्रेस-भाजपा अंदरखाते एक हो गए। इसलिए उस चुनाव में प्रदेश में 80 में से बसपा 20 सीटें जीती और 45 जगह वह दूसरे नंबर पर रही।
उन्होंने प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर सपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश अब क्राइम प्रदेश बन गया है। यहां गुंडागर्दी बढ़ गई और सपा के गुंडे अधिकारियों को ढंग से काम नहीं करने दे। उन्होंने कहा कि सपा सरकार के शासनकाल में प्रदेश में दंगे चरम पर पहुंच गए हैं। मुजफ्फनगर दंगे के आरोपियों को सरेआम सम्मानित किया जा रहा है। दंगों के बाद प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए था। दंगों के बाद अनाप-शनाप बयान दिए गए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में दलितों की हालत बदतर होती जा रही है। सपा सरकार में केवल यादवों को ही फायदा पहुंचाया जा रहा है। सरकार पर अराजक तत्व हावी हो रहे हैं।
मायावती ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जनसभाओं में झूठे लोकलुभावन वादे कर रहे हैं। मोदी गुजरात के पैटर्न पर देश का विकास करने का वादा करते हैं, जबकि गुजरात में हर तीसरा बच्चा कुपोषित है। ऐसे में मोदी पूरे देश का कैसे ध्यान रख सकेंगे।
माया ने गोधरा दंगों पर भी मोदी को घेरा। माया ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में भी दंगे हुए हैं। केवल 6 करोड़ की आबादी वाले प्रदेश गुजरात में मोदी दंगे रोकने में नाकाम रहे।
महंगाई पर कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए मायावती ने कहा कि पेट्रोल, रसोई गैस के बढ़े दामों से पूरे देश की जनता बेहाल है।
सैफई महोत्सव पर माया ने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर निशाना साधने के साथ-साथ इसमें भाग लेने वाले बॉलीवुड स्टार सलमान खान और अन्य कलाकारों को भी नसीहत दे डाली।
उन्होंने कहा कि ऐसे माहौल में उन्हें इस कार्यक्रम में भाग नहीं लेना चाहिए था। उन्होंने मुजफ्फरनगर दंगों के संदर्भ में सपा के मंत्रियों के विदेश दौरे की भी निंदा की।


Check Also

महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस का अपना एक अधिकार है जो संविधान ने दिया है : शिवसेना सांसद संजय राउत

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने राज्य मामलों की जांच के लिए केंद्रीय जांच एजेंसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *