Home >> Breaking News >> इतनी घिन आ रही है तो छोड़ क्यों नहीं देते वीके सिंहः कांग्रेस

इतनी घिन आ रही है तो छोड़ क्यों नहीं देते वीके सिंहः कांग्रेस


vksingh
नई दिल्ली,(एजेंसी) 24 मार्च । कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने पूर्व आर्मी चीफ और केंद्रीय मंत्री वीके सिंह पर निशाना साधते हुए कहा है कि पाकिस्तानी पार्टी में जाने को लेकर दुख जाहिर करने के बजाय उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। वीके सिंह सोमवार को पाक दिवस के समारोह में शामिल हुए थे। बाद में उन्होंने संकेत दिए थे कि वह इस पर दुखी हैं।

मनीष तिवारी को भी इस समारोह में बुलाया गया था लेकिन वह नहीं गए। वीके सिंह के बारे में तिवारी ने ट्वीट किया, ‘अगर श्रीमान को अपनी सरकार दोहरे मापदंडों पर इतनी घिन आ रही है तो वह इस्तीफा क्यों नहीं देते? इससे पहले भी मंत्री पाकिस्तानी समारोहों में जाने से इनकार करते रहे हैं।’

पाक नैशनल डे पर पाक उच्चायोग की पार्टी से लौटने के बाद जनरल सिंह ने कई ट्वीट किए थे जिन्हें उन्हें ड्यूटी और घिन जैसे शब्दों की व्याख्या दी थी। इन्हीं ट्वीट्स को सिंह की भावनाओं की अभिव्यक्ति माना गया। जनरल सिंह ने एक के बाद एक कुल पांच ट्वीट किए थे।

पार्टी के बाद जनरल सिंह ने रिपोर्टर्स को बताया था कि उन्हें सरकार का प्रतिनिधित्व करने के लिए कहा गया था। इस मसले पर कांग्रेस नेता पीसी चाको ने सरकार को खरी-खोटी सुनाई थी। उन्होंने कहा, ‘इससे पता चलता है कि ऐसे मसलों पर सरकार के पास कोई स्पष्ट नीति नहीं है। पाक अपना राष्ट्रीय दिवस मनाता है, उसमें भारत विरोधी लोगों को बुलाता है। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।’

हालांकि पूरे प्रकरण पर जारी विवाद पर विदेश राज्यमंत्री ने सफाई देते हुए कहा, ‘मुझे अफसोस है कि पाक दिवस के मौके पर कार्यक्रम में मेरे शामिल होने को मीडिया द्वारा बेवजह तूल दिया जा रहा हैं, जबकि यह कोई नई परंपरा नहीं हैं। पाक के कार्यक्रमों में भारतीय प्रतिनिधियों के शामिल होने और भारत के कार्यक्रमों में पाक प्रतिनिधियों का आना कोई नया नहीं है। पिछले कुछ सालों के ही कार्यक्रमों को ही देखे तो पाक दिवस पर हुर्रियत के नेता उसमें आते रहे हैं और उसमें भारत सरकार का भी प्रतिनिधित्व होता है।’


Check Also

नीतीश जी ने बिहार के जंगलराज सर्वनाश किया है : भाजपा सांसद रवि किशन

चिराग पासवान के मुख्यमंत्री को जेल भेजने के बयान पर भाजपा सांसद रवि किशन ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *