Wednesday , 27 March 2019
खास खबर
Home >> Videos >> दीपिका की लोकप्रियता को देखते हुए लंदन के मैडम तुसाद म्यूज़ियम में इस रानी पद्मिनी का मोम का पुतला लगाया गया

दीपिका की लोकप्रियता को देखते हुए लंदन के मैडम तुसाद म्यूज़ियम में इस रानी पद्मिनी का मोम का पुतला लगाया गया


पादुकोण अब सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं ग्लोबल स्टार हो गईं हैं और इसी कारण उनकी पूछ- परख दुनिया के हर कोने में होती है। दीपिका की लोकप्रियता को देखते हुए लंदन के मैडम तुसाद म्यूज़ियम में इस रानी पद्मिनी का मोम का पुतला लगाया गया है,जिसे दीपिका ने अनविल किया है। तब वहां उनके बाजीराव यानि रणवीर सिंह भी थे l

इस मौके पर दीपिका के साथ उनके पति रणवीर सिंह, पिता प्रकाश पादुकोण और माँ उजाला भी थीं। दीपिका के इस मोम के पुतले पर वही लहंगा है जो उन्होंने 2016 में आइफा अवॉर्ड्स के दौरान डोनेशन में दे दिया था। शैम्पेन कलर का ये लहंगा, सब्यसाची मुखर्जी ने डिजाइन किया है, जिसमें बारीक हीरों की नक्काशी है। अनविल करने के बाद दीपिका उसे काफ़ी समय तक निहारती रहीं और उनका परिवार भी। रणवीर सिंह भी अपने सामने दो दो दीपिका देख कर दंग रह गए।

पिछले दिनों जब दीपिका लंदन में थीं तब वहां उनका वैक्स स्टेचू के लिए माप लिया गया । लंदन के मैडम तुसाद म्यूज़ियम में एक मापदंड के तहत प्रसिद्ध लोगों की प्रतिभा स्थापित की जाती है, ऐसे लोगों की प्रतिभा जो अपने काम से विश्व मे अपनी पहचान बना लेते हैं उन्हें यह सम्मान हासिल होता है। ग्लोबल स्टार दीपिका पादुकोण ने भी अपने अभिनय कौशल और सौंदर्य से हर किसी का दिल जीत चुकी हैं और अब दीपिका पादुकोण लंदन के मैडम तुसाद म्यूज़ियम में अपना जादू बिखेरने के लिए तैयार है।

दीपिका पद्मावत के बाद बॉलीवुड की पहली ऐसी फीमेल एक्टर हैं जिनकी फिल्म ने 300 करोड़ क्लब में प्रवेश किया था। टाइम्स की 100 प्रभावशाली लोगो की सूची में शामिल होने वाली भी वो एकमात्र अभिनेत्री रहीं । उन्होंने एमईटी गाला और कान फिल्म फेस्टिवल 2018 में अपनी शानदार उपस्थिति के साथ भी हर किसी का दिल जीत लिया था।

पिछले दिनों वराइटी मैगज़ीन ने एक सूची जारी की थी जिसमे दुनिया भर में महिलाओं को उनके काम से होने वाले प्रभाव के लिए सम्मानित किया गया था। इस सूची में भारत की लीडिंग अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को सिनेमा में उनके योगदान और परोपकारी प्रयासों में भाग लेने के साथ-साथ विवादों को सरलता से संभालने के लिए सम्मानित किया गया ।


Study Mass Comm