Wednesday , 27 March 2019
खास खबर
Home >> U.P. >> बीडीएस की टीम ने पहुंच कर पूरे कांप्लेक्स में छानबीन की

बीडीएस की टीम ने पहुंच कर पूरे कांप्लेक्स में छानबीन की


घड़ी में 12:20 का समय था, पुलिस कंट्रोल रूम में कॉल आई, कॉलर ने कहा, किदवई नगर के शांतिनिकेतन स्वीट्स में बम है 2.30 बजे उड़ा दूंगा, जिसे बचा सकते हो उसे बचा लो। इतना सुनते ही पुलिस महकमा सक्रिय हो गया और तत्काल लाला माईघन कांप्लेक्स स्थित शांतिनिकेतन स्वीट्स में जाकर पड़ताल की और उसके मालिक को सूचना दी। इसके साथ ही कांपलेक्स में ही कुरियर कपंनी के अफिस में सभी पार्सल भी जांचे।

रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम में शांतिनिकेतन स्वीट्स को बम से उड़ाने की धमकी मिलने से अफरा तफरी मच गई। थाना पुलिस, एस-10 सदस्य, एलआईयू और बीडीएस की टीम मौके पर पहुंची और स्वीट हाउस मालिक सी-ब्लाक निवासी विवेक अग्रवाल से संपर्क किया। किदवई नगर इंस्पेक्टर कुंज बिहारी मिश्र ने बताया पहले 12:20 और फिर 12:26 बजे दो मोबाइल नंबरों से दुकान में बम रखा होने और 2.30 बजे उड़ाने की धमकी दी गई। फोन करने वाले ने कहा था कि जिसे बचा सकते हो उसे बचा लो। 
सूचना पर पहुंची बीडीएस की टीम ने कांप्लेक्स के बेसमेंट में कुरियर कंपनी के दफ्तर और गोदाम में भी छानबीन की लेकिन कुछ नहीं मिला। टीम ने दुकान और कारखाने में सघन तलाशी कराई। सूचना देने के बाद शातिर ने मोबाइल बंद कर लिया। मोबाइल फोन ट्रेस करने पर फर्जी आईडी की जानकारी हुई। पुलिस के मुताबिक तमिलनाडु की आईडी वाले नंबर से सूचना दी गई। 

निकाले गए कर्मचारियों पर शक 
बम से उड़ाने की सूचना के मामले में पुलिस का शक दुकान के पुराने निकाले गए कर्मचारियों पर है। पुलिस को हरदोई और रायबरेली के काम करने वाले कर्मचारियों की तलाश है। दुकान के कर्मचारियों से वैभव नाम के युवक के बारे में पूछताछ की है। 
गोविंदनगर से दी गई सूचना 
दोपहर बाद एसएसपी की सर्विलांस टीम दुकान पहुंची। टीम ने कर्मचारियों से पूछताछ की। छानबीन में सूचनाकर्ता की टावर लोकेशन मिली, जो गोविंदनगर की थी। पुलिस और सर्विलांस टीम आरोपितों की धरपकड़ के प्रयास कर रही है।


Study Mass Comm