Wednesday , 28 October 2020
Home >> Exclusive News >> सेना भर्ती पर डोपिंग का ‘साया’

सेना भर्ती पर डोपिंग का ‘साया’


25_03_2015-25lal-7-c-2
कानपुर,(एजेंसी) 26 मार्च । ओलंपिक खेल ही नहीं अब तो सेना की भर्ती पर भी डोपिंग का साया पड़ गया है। भर्ती रैली में गुरुवार सुबह तीन अभ्यर्थियों के बैग से शरीर में उत्तेजना बढ़ाने वाली दवा मिलीं। सेना ने तीनों को बाहर कर दिया। तीनों केस मिलने के बाद सेना सतर्क हो गई है। देर शाम तक जो भी अभ्यर्थी आए,उनके बैग की सघन जांच की गई। डीडीजी ने भर्ती प्रक्रिया और पारदर्शी बनाने के निर्देश दिए हैं।

कानपुर नगर के शाम पांच बजे तक 40 राउंड लगे, ‘अखौरा टाइगर्स’ रेजीमेंट के मैदान में 16500 अभ्यर्थियों ने दौड़ लगाई। कुल 506 युवा पास हो गए, जिन्हें मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया। डिप्टी डायरेक्टर जनरल लखनऊ हेड क्वार्टर संदीप सहगल की निगरानी में भर्ती प्रक्रिया की गई। सुबह चार बजे से अभ्यर्थियों को टोकन वितरण चालू हुआ। करीब डेढ़ सौ अभ्यर्थी लंबाई में छंट गए।

उम्र में मिला फर्जीवाड़ा
प्रमाणपत्रों की जांच में फर्जीवाड़ा निकल रहा है। रेस में पास होने के बाद हाईस्कूल की सनद से उम्र का मिलान किया जा रहा है। सेना के अधिकारियों ने उन्नाव के एक अभ्यर्थी के सर्टीफिकेट जांच में गड़बड़ी पकड़ी। अभ्यर्थी की जन्मतिथि 7 जुलाई 1996 दर्शाई गई जबकि हाईस्कूल की सनद मे 24 जून 2009 है। इस तरह 13 साल की उम्र में उसने हाईस्कूल कर लिया। सेना ने उसके आवेदन को निरस्त करने की कार्रवाई चालू कर दी है।

सेना को चाहिए एक लाख अभ्यर्थी
सेना को केवल उत्तर प्रदेश से हर साल एक लाख अभ्यर्थी चाहिए। इसके लिए अमेठी में आठ जिलों के लिए अप्रैल के प्रथम सप्ताह से बंपर भर्ती चालू हो रही है। उसके बाद सेना उत्तराखंड में भी भर्ती रैली प्रारंभ करने की दिशा में काम कर रही है।


Check Also

दरभंगा में विरोधियों पर जमकर बरसे पीएम मोदी बोले- पहले सरकार में रहने वालों का मंत्र रहा है पैसा हजम

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा पहले सरकार में रहने वालों का मंत्र रहा है कि पैसा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *