Saturday , 20 April 2019
खास खबर
Home >> बिज़नेस >> जेट एयरवेज में हिस्सेदारी खरीदने के लिए नरेश गोयल भी बोली लगा सकते

जेट एयरवेज में हिस्सेदारी खरीदने के लिए नरेश गोयल भी बोली लगा सकते


जेट एयरवेज (Jet Airways) में हिस्सेदारी खरीदने के लिए नरेश गोयल भी बोली लगा सकते हैं. खबरों के मुताबिक अभी तक चार कंपनियों की ओर से बोलियां आई हैं. जिसमें प्राइवेट इक्विटी फंड्स टैक्सस पैसिफिक ग्रुप TPG, नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट फंड NIIF, इंडिगो पार्टनर्स और रेडक्लिफ कैपिटल ने जेट एयरवेज के लिए बोली लगाने में दिलचस्पी दिखाई है.

एतिहाद की एयरलाइन में 24 फीसदी हिस्सेदारी

बैंकों को उम्मीद है कि कनाडा एयरवेज और डेल्टा एयरलाइंस भी बोली में दिलचस्पी दिखाएंगे. एतिहाद एयरवेज की भी इच्छा बोली में शामिल होने की है. एतिहाद जेट एयरवेज का एयरलाइन में साझीदार है. एतिहाद की एयरलाइन में 24 फीसदी हिस्सेदारी थी. जबकि नरेश गोयल की शेयर होल्डिंग 51 फीसदी थी. हालांकि नरेश गोयल ने अपने 26 फीसदी शेयरों को पंजाब नेशनल बैंक को गिरवी रख दिया है. ऐसे में उम्मीद है कि शेयर गिरवी रखने के पीछे मकसद ये है कि बैंक तुरंत एयरलाइन को फंड मुहैया कराएं ताकि एयरलाइन को जिंदा रखा जा सके.

जेट के केवल 14 जहाज ही उड़ रहे

इस बीच गुरुवार को जेट एयरवेज के बोर्ड की भी बैठक हो रही है जिसमें बोर्ड को एयरलाइन की मौजूदा हालत से वाकिफ कराया जाएगा. इस बीच एयरलाइन के उड़ने वाले फ्लीट में गिरावट की खबरें आ रही हैं. सूत्रों के मुताबिक एयरलाइन के फिलहाल 14 जहाज ही उड़ पा रहे हैं. जबकि अंतराष्ट्रीय स्तर पर उड़ान की इजाजत बनाए रखने के लिए कम से कम 20 जहाजों की जरूरत होती है.

7 विमानों का रजिस्ट्रेशन कैंसल किया

दूसरी तरफ बुधवार को डीजीसीए ने जेट एयरवेज के सात बोइंग 737-800 विमानों का रजिस्ट्रेशन रद्द करने की घोषणा की. इससे इन विमानों को पट्टे यानी लीज पर देने वाली कंपनियां इन्हें देश से बाहर ले जा सकेंगी और किसी अन्य एयरलाइन को पट्टे पर दे सकेंगी. पिछले कुछ सप्ताह के दौरान पट्टे पर विमान देने वाली कंपनियों को भुगतान नहीं करने की वजह से जेट एयरवेज को अपने कई विमान खड़े करने पड़े हैं. एयरलाइन के बेड़े में 119 विमान हैं.

जेट एयरवेज के 26 विमान उड़ान भर रहे

नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खारोला ने 4 अप्रैल को कहा था कि फिलहाल जेट एयरवेज के सिर्फ 26 विमान उड़ान भर रहे हैं. डीजीसीए ने वेबसाइट पर दी जानकारी में कहा कि जिन सात बोइंग विमानों का रजिस्ट्रेशन रद्द किया गया है वे क्रॉली एविएशन, मार्दल एविएशन, एलनवुड एयरक्राफ्ट लीजिंग, डन्गारवन एयरक्राफ्ट लीजिंग, एल्फिन एयरक्राफ्ट लीजिंग, कार्लो एयरक्राफ्ट लीजिंग और बैलीहाउनिस एयरक्राफ्ट लीजिंग के हैं.


Study Mass Comm