Thursday , 24 September 2020
Home >> Breaking News >> दिल्ली पुलिस के अधिकारियों का हो निलंबन : केजरीवाल

दिल्ली पुलिस के अधिकारियों का हो निलंबन : केजरीवाल


kejriwal
नई दिल्ली,एजेंसी। एक सामाजिक कार्यकर्ता की तरह बयान जारी करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली पुलिस ‘बहुत ही समझौतापरस्त’ है और सेक्स रैकेट एवं नशे के कारोबारी व एक महिला को जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने से मना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने से मना करने वाले चार पुलिस अधिकारियों को निलंबित किया जाए।

केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत में अत्यंत कठोर लहजे में कहा, ”हम केंद्र से मांग कर रहे हैं..हम दिल्ली पुलिस को चेतावनी दे रहे हैं।” उन्होंने कहा, ”दिल्ली पुलिस अत्यंत समझौतापरस्त है।”
मुख्यमंत्री ने सागरपुर और मालवीय नगर थानों के प्रभारियों (एसएचओ) व दो सहायक पुलिस आयुक्तों को निलंबित किए जाने की मांग की।
उन्होंने कहा कि सागरपुर के एसएचओ ने अपनी बहू को कथित रूप से जलाकर मारने का प्रयास करने वाले परिवार के सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की। महिला 45 प्रतिशत तक झुलस गई है।
केजरीवाल ने मालवीय नगर के एसएचओ पर विदेशियों के साथ मिलीभगत का आरोप लगाया। दक्षिणी दिल्ली अफ्रीकी बताए जा रहे विदेशी मादक पदार्थ और वेश्यावृत्ति के धंधे में लिप्त बताए जाते हैं।
उन्होंने कहा, ”जो कुछ हो रहा है लोग उसके मूकदर्शक नहीं रह सकते।”
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में अगर कोई अपराध भी रुकता है तो पुलिस बल के कारण नहीं, बल्कि ईश्वर की कृपा से।
डेनमार्क की 51 वर्षीया पर्यटक के साथ मंगलवार को लूटपाट और सामूहिक दुष्कर्म की घटना सहित महिलाओं के विरुद्ध अपराध के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए केजरीवाल ने कहा, ”लोगों की सुरक्षा भगवान भरोसे है और कहीं कोई छोटा-मोटा अपराध अगर नहीं होता है दिल्ली पुलिस के कारण नहीं, बल्कि अन्य कारणों से।”
28 दिसंबर को राष्ट्रीय राजधानी की सरकार संभालने से पहले कई वर्षो तक केजरीवाल एक सामाजिक कार्यकर्ता रहे। उन्होंने दिल्ली पुलिस के साथ निपटने के बारे में अपनी योजना का खुलासा नहीं किया। बार-बार कुरेदे जाने पर उन्होंने बस इतना ही कहा, ”देखते रहिए।”
दिल्ली के पुलिस आयुक्त बी. एस. बस्सी ने बेहद सतर्कता से प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री के बयान पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे सकते, क्योंकि उन्होंने उनकी बात सुनी ही नहीं है।
लेकिन बस्सी ने यह जरूर कहा कि दिल्ली पुलिस के हाथों में दिल्ली सुरक्षित है। उन्होंने कहा ”केजरीवाल और मेरे बीच कोई लड़ाई नहीं है।”
मुख्यमंत्री ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ गुस्से का इजहार उनके दो मंत्रियों द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद किया है। मंत्रियों का आरोप है कि उनके अनुरोध के बावजूद पुलिस ने अपराध में संलिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की।
कानून मंत्री सोमनाथ भारती ने दक्षिणी दिल्ली के मालवीय नगर में पुलिस और सेक्स व नशे के सौदागरों के बीच मिलीभगत का आरोप लगाया है।
भारती ने बताया कि अपने विधानसभा क्षेत्र में किस तरह उन्होंने रात के समय वेश्यावृत्ति के धंधे से जुड़े लोगों को पकड़ लिया था और विदेशी धंधेबाजों के खिलाफ पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।


Check Also

यूपी के प्रयागराज जिले में 304 व्यक्तियों के कोविड से संक्रमित होने की हुई पुष्टि

प्रयागराज: कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है, इस वायरस के कारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *