Wednesday , 27 January 2021
Home >> Breaking News >> दिल्ली में भाजपा की बैठक शुरू

दिल्ली में भाजपा की बैठक शुरू


BJp
नई दिल्ली,एजेंसी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तीन दिवसीय बैठक यहां शुक्रवार को शुरू हुई। यह बैठक लोकसभा की 272 से अधिक सीटों को जीतने के लक्ष्य पर केंद्रित है। यह लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी व परिषद की आखिरी बैठक होगी।

इस बैठक में पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह, एल.के.आडवाणी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, मुरली मनोहर जोशी, एम.वेंकैया नायडु, नितिन गडकरी, शिवराज सिंह चौहान, वसुंधरा राजे, रमन सिंह और मनोहर पर्रिकर मौजूद रहेंगे। 545 सदस्यी लोकसभा में भाजपा के फिलहाल 117 सदस्य हैं।

बीजेपी भी अपनी चुनावी रणनीति बनाने पर विचार करेगी। आज राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरु हुई है जबकि अगले दो दिन दिल्‍ली के रामलीला मैदान में बीजेपी को आगामी लोकसभा चुनाव में जिताने पर मंथन होगा। इस सम्‍मेलन में पार्टी के 10 हजार कार्यकर्ता शामिल होंगे, जो पार्टी की रणनीति पर अपने विचार रखेंगे।

पार्टी ‘वन वोट, वन नोट’ और ‘मिशन 272 प्लस’ अभियानों के जरिए मतदाताओं तक पहुंचने के लिए अपने कार्यक्रमों को शुक्रवार की बैठक में अंतिम रूप देगी। इसके अलावा पार्टी का ‘मोदी फॉर पीएम’ कार्यक्रम भी होगा जो ऑनलाइन और ऑफलाइन होगा। पार्टी घर-घर जाकर लोगों से मिलने तथा गांवों तक पहुंचने के अभियान को भी अंतिम रूप देगी। इसके अलावा आम चुनावों से पहले राज्यवार रणनीतियां भी तैयार की जाएंगी। पार्टी कार्यकारिणी की शुक्रवार को होने वाली बैठक में राजनीतिक और आर्थिक संकल्पों पर विचार किया जाएगा जिन्हें पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की शनिवार और रविवार को होने वाली बैठक में रखा जाएगा।

तीन दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी और परिषद बैठकों में सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक, राष्ट्रीय सुरक्षा और आंतरिक सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। शुक्रवार को पार्टी परिषद की बैठक की शुरूआत भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह के भाषण से होगी। इसके बाद आडवाणी और प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का भाषण होगा।

लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज, राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरूण जेटली के अलावा पूर्व अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी, एम वेंकैया नायडू और नितिन गडकरी भी अपने विचार रखेंगे। बैठक में पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर सभी पदाधिकारियों के अलावा सांसद, विधायक, विधान पार्षद, जिला अध्यक्ष आदि भी बैठक में भाग लेंगे।


Check Also

ममता बैनर्जी बंगाल में अपनी सत्ता बचाना चाहती हैं तो वह राम और कृष्ण को भी उतना महत्व दें, जितना वह इस्लाम को देती हैं : योग गुरु बाबा रामदेव

बाबा रामदेव ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी को सलाह दी कि अगर वह अपनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *