Friday , 20 September 2019
खास खबर
Home >> क्राइम >> मां की झाड़फूंक करने घर आया था तांत्रिक, दिख गई नाबालिग बेटी …

मां की झाड़फूंक करने घर आया था तांत्रिक, दिख गई नाबालिग बेटी …


आजकल अपराध के मामले लगातार सामने आ रहे हैं जो हैरान कर देने वाले हैं. ऐसे में हाल ही में मध्य प्रदेश के सतना जिले से है. ऐसे में जो मामला सामने आया है वह सभापुर थाना क्षेत्र का है इस मामले में फिर एक नाबालिग ज्यादती का शिकार हो गई, जिसकी रिपोर्ट पर कायमी कर पुलिस जांच में जुट गई है. खबरों के मुताबिक़ पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक विगत 4 जून को मां की तबियत खराब होने पर 17 वर्षीय किशोरी अपने ही गांव का कथित तांत्रिक सतेन्द्र शुक्ला को झाड़फूक के लिए बुला लाई.

इस मामले में मिली जानकारी के मुताबिक़ आरोपी ने नीबू-मिर्ची आदि का इस्तेमाल कर भौतिक बाधा उतारने का स्वांग रचा और उपयोग किया सामान घर से दूर फेंकने के बहाने नाबालिग को गांव से बाहर ले गया, जहां आरोपी ने डराते-धमकाते हुए उसके साथ ज्यादती कर डाली. खबरों के मुताबिक़ आरोपी की करतूत से आहत पीड़िता घर लौटी तो मां की हालत देखकर चुप्पी साध ली. वहीं मिली खबरों के अनुसार बाहर नौकरी करने वाले पिता और चाचा का इंतजार करने लगी. वहीं बीते 6 जून को पिता घर आए तब आप बीती सुनाते हुए उनके साथ थाने आई, जहां आईपीसी की धारा 376 और पाक्सो एक्ट की धारा 3/4 के तहत कायमी कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई. इस मामले में मिली जानकारी के मुताबिक़ उचेहरा पुलिस ने पाक्सो एक्ट और छेड़छाड़ के 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया.

वहीं इस मामले में जानकारी देते हुए थाना प्रभारी सुधांशु तिवारी ने बताया कि भरहुत निवासी रामगणेश द्विवेदी पुत्र केदार द्विवेदी 28 वर्ष के खिलाफ 20 अपै्रल 2019 को नाबालिग ने छेडख़ानी की शिकायत दर्ज कराई थी, जिस पर आईपीसी की धारा 354 और पाक्सो एक्ट के तहत कायमी की गई, लेकिन आरोपी पकड़ में नहीं आया. इस मामले में लिहाजा मुखबिरों को उसके पीछे लगाया, जिनसे मिले सुराग पर शुक्रवार सुबह भरहुत में दबिश देकर पकड़ लिया गया.


Study Mass Comm