Home >> इंटरनेशनल >> पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ झूठे और कमजोर मामले दर्ज कर रहा

पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ झूठे और कमजोर मामले दर्ज कर रहा


पाकिस्तान फिर अंतरराष्ट्रीय समुदाय को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। वो भी ऐसे समय में जब अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के वित्तपोषण की निगरानी करने वाली संस्था फाइनेंशल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की बैठक को कुछ ही समय हुआ है। अब पाकिस्तान आतंकी संगठनों और अपनी मिट्टी पर पल रहे आतंकियों के खिलाफ झूठे और कमजोर मामले दर्ज कर रहा है।

पाकिस्तान के गुमराह करने के सबूत देते हुए सूत्रों ने बताया कि एक जुलाई को गुजरांवाला पुलिस में प्रतिबंधित दावत-वल-इरशाद के सदस्यों के खिलाफ एक सूत्र द्वारा दी गई जानकारी के आधार भूमि सौदा करने पर मामला दर्ज करवाया गया। बता दें दावत-वल-इरशाद, लश्कर-ए-तैयबा का ही एक सहायक संगठन है। जिसका प्रमुख आतंकी हाफिज सईद है। हालांकि कानून की जानकारी रखने वालों का कहना है ये एफआईआर कानून के अनुसार सही तरह से दर्ज नहीं करवाई गई है।

Check Also

अमेरिका में 16 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी लोग अब कोरोना टीकाकरण के लिए होंगे पात्र

अमेरिका में 16 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी लोग अब कोरोना टीकाकरण के …