Home >> बिज़नेस >> निजी क्षेत्र के कर्मचारियों की सैलरी में बढ़त पिछले एक दशक में सबसे कम हुई

निजी क्षेत्र के कर्मचारियों की सैलरी में बढ़त पिछले एक दशक में सबसे कम हुई


अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से भारतीय कंपनियों की तरक्की की रफ्तार सुस्त पड़ गई है. इसकी वजह से कंपनियां अपने कर्मचारियों के वेतन में ज्यादा बढ़ोतरी से हिचक रही हैं. साल 2018-19 में निजी क्षेत्र के कर्मचारियों की सैलरी में बढ़त पिछले एक दशक में सबसे कम हुई है.

सेंटर फॉर मॉनीटरिंग इंडियन इकोनॉमी द्वारा तैयार प्रोवेस डेटाबेस से यह जानकारी सामने आई है. इसमें 4,953 कंपनियों की बिक्री और वेतन का पिछले 10 साल का आंकड़ा संयोजित किया गया है. इनमें से 3,353 कंपनियों में साल 2018-19 में 82 लाख लोग कार्यरत थे. साल 2018-19 में इन 4,953 कंपनियों के नॉमिनल वेतन और बिक्री आय में क्रमश: 6 और 9 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. यानी अगर महंगाई के असर को देखें तो (कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स) तो कर्मचारियों के वेतन में बढ़त महज 0.53 फीसदी रही है.


Check Also

सोने के भाव में आई गिरावट, चांदी की कीमतों में देखने को मिली तेजी, जानिए क्या हैं रेट

घरेलू वायदा बाजार में मंगलवार सुबह को सोने के भाव में गिरावट देखने को मिली …