Tuesday , 15 October 2019
खास खबर
Home >> News in Pictures >> तमिल भाषा और संस्कृति पर पी चिदंबरम का बयान आया

तमिल भाषा और संस्कृति पर पी चिदंबरम का बयान आया


कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने रविवार को कहा कि अगर तमिलभाषी एक हो जाएं तो सभी तमिल भाषा और संस्कृति की महानता को स्वीकार करेंगे। चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मामले में फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद हैं।

उनका यह बयान ऐसे वक्त आया है जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम में कहा था कि देश की विभिन्न भाषाएं उसके उदार एवं लोकतांत्रिक समाज की अहम पहचान है। पीएम मोदी ने भाषाई विविधता के महत्व को ऐसे वक्त रेखांकित किया जब गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी को देश की एक भाषा बनाने की वकालत की थी। इस बयान के लिए शाह को तीखी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था।

चिदंबरम ने ट्वीट किया कि अगर तमिलभाषी एकजुट हो जाएं और एक सुर में बोलें तो हर व्यक्ति तमिल भाषा और संस्कृति की महानता को स्वीकार करेगा। गौरतलब है कि मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में अपने संबोधन में तमिल विचारक कनियन का उल्लेख किया था।


Study Mass Comm