Tuesday , 22 September 2020
Home >> क्राइम >> भागलपुर में स्पन सिल्क मिल में चोरी कर रहे चोरों ने पुलिस टीम पर किया बमों से हमला

भागलपुर में स्पन सिल्क मिल में चोरी कर रहे चोरों ने पुलिस टीम पर किया बमों से हमला


भागलपुर के बबरगंज थाना क्षेत्र के अलीगंज स्थित स्पन सिल्क मिल में सोमवार रात चोरों ने पुलिस पर बमों से हमला कर दिया। इस घटना में पुलिसकर्मी बाल-बाल बच गए। चकमा देकर चोर भागने में सफल हो गए। ऑटो पर लोड करीब पांच क्विंटल लोहे का पार्ट्स जब्त कर लिया गया है। जब्त ऑटो हबीबपुर के संतोष साह की पत्नी पूनम देवी के नाम पर हैं। सिटी एसपी एसके सरोज ने कहा कि घटना में शामिल चोरों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

सोमवार की देर रात पुलिस को सूचना मिली कि स्पन सिल्क मिल, अलीगंज में कुछ चोर घुस आए हैं। सूचना पर थाना प्रभारी पवन कुमार सिंह, एएसआई सिकंदर कुमार और इंद्रजीत सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस को देखते हुए चोरों ने ताबड़तोड़ दो बमों से हमला कर दिया। पुलिस जबतक पोजिशन लेती, तबतक चार-पांच चोर मिल के पीछे के रास्ते भागने में सफल हो गए।

पुलिस ने मिल परिसर की तलाशी ली तो कारखाना के बाहर बीआर 10 जीए/8429 नंबर के ऑटो पर लोहे का पार्ट्स लदा मिला। पुलिस ऑटो को जब्त कर थाने पर ले आई। मंगलवार सुबह घटना की जानकारी मिलने पर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह बबरगंज थाना पहुंचे। थानेदार से घटना की जानकारी ली। कहा अभी अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। ऑटो मालिक को भी केस में आरोपी बनाया जाएगा। इधर, दक्षिण इलाके में अक्सर बदमाशों द्वारा आपराधिक घटनाओं में बमों का इस्तेमाल करते रहे हैं लेकिन पुलिस पर चोरों द्वारा पहली बार बमों से हमला किया गया है। 

किराना दुकान में चोरी के लिए पहुंचे चोर ऑटो छोड़कर भागे
बबरगंज थाना क्षेत्र के मोहद्दीनगर मोहल्ले में सोमवार की देर रात बालेश्वर साह की किराना दुकान में चोरी के लिए तीन चोर ऑटो से पहुंचे थे। दुकान में छत के सहारे घुस गए और करीब 25 हजार मूल्य का सरसों तेल का डिब्बा समेत अन्य सामान चोरी कर ऑटो पर रख लिए। इस बीच आसपास के लोग जग गए। लोगों के घर से बाहर निकलते ही चोर ऑटो छोड़कर भाग गए।
सूचना मिलने पर बबरगंज थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। घटना की जांचकर ऑटो जब्त कर थाने पर ले आई। सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने कहा कि स्पन सिल्क में जिस वक्त पुलिस छापेमारी कर रही थी। उसी समय किराना दुकान में भी चोरी की सूचना मिली। जब्त ऑटो चोरी का लग रहा है। इंजन का नंबर घिस दिया गया है और रजिस्ट्रेशन नंबर भी नहीं है। इससे संभावना है कि ऑटो का चोरी के लिए उपयोग किया जाता है। थानेदारों को निर्देश दिया गया है कि रात में गश्ती के दौरान ऑटो या संदिग्ध वाहनों कि जांच की जाए। किराना दुकानदार बालेश्वर साह ने कहा कि रात में घर में सोये थे। चोरी की भनक नहीं लगी थी। जब्त सामानों को थाने पर रखा गया है। 


Check Also

EOW का छापा: मध्यप्रदेश के सरकारी स्कूल में तैनात लिपिक के पास मिली पांच करोड़ रुपये की अवैध्य संपत्ति

मध्यप्रदेश के सरकारी स्कूल में तैनात एक लिपिक के यहां आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने …