Home >> Health Tips >> डायबिटीज में इन मसालो का करेंगे सेवन तो कभी नहीं बढ़ेगी शुगर

डायबिटीज में इन मसालो का करेंगे सेवन तो कभी नहीं बढ़ेगी शुगर


डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसमे खान पान से सम्बंधित कई चीज़ो में परहेज़ की सलाह दे दी जाती है लेकिन ऐसे में कुछ मसाले अलसी है जिन्हे डायबिटीज के मरीज अपने दिनचर्या में शामिल कर रक्त में शुगर की मात्रा को कण्ट्रोल कर सकते है। आज हम आपके साथ ऐसे ही कुछ फायदेमंद मासलो के बारे में शेयर करने जा रहे है , तो देर किस बात की है आइये जानते है

हरी मिर्च: प्रतिदिन भोजन के साथ दो तीन ताजी हरी मिर्च कच्ची सेवन करने से मधुमेह रोग में अच्छा लाभ होता है. हरी मिर्च विटामिन सी का अच्छा स्रोत होने के साथ:साथ पाचक ग्रंथियों के लिए भी उत्तेजक है एवं कब्ज को दूर करती है. उल्लेखनीय है कि मधुमेह रोगी को कब्ज और अपच की शिकायत आम होती है.

लौंग: इस मसाले में दालचीनी के मुकाबले कई गुना अधिक पौलफिनौल होता है. लेकिन यह उतनी अधिक मात्रा में नहीं खाया जा सकता जितना आप दालचीनी को खा सकते हैं. इसलिये यह मसाला दूसरे स्थान पर आता है.

दालचीनी:यह मसाला डायबिटीज को कंट्रोल करने में सबसे अधिक कारगर है क्योंकि यह शरीर में रक्त शर्करा को भी नियंत्रण में रखता है. रिसर्च बताती है कि दालचीनी,शरीर की सूजन को कम करता है तथा इंसुलिन लेवल को नियंत्रित करता है. इसको आप खाने,चाय या फिर गरम पानी में एक चुटकी दालचीनी पाउडर मिक्स कर पिएं.

लहसुन:इसे खाने से दिल की बीमारी दूर रहेगी और ब्लड प्रेशर हमेशा कंट्रोल में रहेगा. इसलिये लहसुन का सेवन मधुमेह रोगी के लिये आवश्यक बनाता है. यह हार्ट पंप को मजबूत बनाएगा और ब्लड सर्कुलेशन भी नार्मल करेगा.

हल्दी: मधुमेह रोगी यदि प्रतिदिन आधा चम्मच हल्दी का सेवन करे तो फायदा होगा. हल्दी एक उत्तम जैव प्रतिरोधी मसाले के रूप में विख्यात है. इसके नियमित सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. घाव या चोट पकने नहीं पाता,किसी कारण से लगी अंदरूनी मार भी शीघ्र ठीक हो जाती है.


Check Also

जानिए… मक्के के दाने आपकी सेहत के लिए है कितने लाभदायक

चुस्ती फुर्ती और सेहतमंद बने रहने के लिए मक्के के दानो के सेवन की सलाह …