Home >> बिज़नेस >> हडकंप: नोकिया के तमिलनाडु स्थित मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट में 42 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

हडकंप: नोकिया के तमिलनाडु स्थित मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट में 42 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव


बीते दशक की सबसे चर्चित फोन निर्माता कंपनी नोकिया के तमिलनाडु स्थित मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट में 42 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इस वजह से कंपनी को प्लांट बंद करने का फैसला लेना पड़ा.

नोकिया की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि कंपनी ने बीते हफ्ते तमिलनाडु के श्रीपेरंबुदूर स्थित प्लांट को बंद कर दिया था.

नोकिया ने इसकी आधिकारिक जानकारी तब दी है जब कंपनी के कुछ कर्मचारी कोरोना पॉ‍जिटिव पाए गए हैं. हालांकि, कंपनी ने अभी तक इस बात का खुलासा नहीं किया है कि कितने कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हैं. लेकिन न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पॉजिटिव केस की संख्या 42 है.

आपको बता दें कि भारत में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है लेकिन बीते दिनों कुछ ढील दी गई थी. इस ढील में कंपनियों को शर्तों के साथ प्‍लांट खोलने की इजाजत थी.

यही वजह है कि नोकिया ने भी अपने तमिलनाडु स्थित प्‍लांट में कामकाज दोबारा शुरू किया था. हालांकि, कंपनी का कहना है​ कि हमने सभी शर्तों का पालन किया है.

नोकिया की ओर से बताया गया कि हमने सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए कई उपाय और बदलाव लागू किए थे. वहीं, प्लांट में मौजूद कैंटीन की सर्विस में भी बदलाव किया था. कंप‍नी को उम्मीद है कि जल्द ही एक बार फिर प्लांट में परिचालन शुरू होगा.

येकुछ दिनों पहले उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित ओप्पो मोबाइल फोन कंपनी की फैक्ट्री में भी 9 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे.
इसके बाद ओप्‍पो के इस फैक्‍ट्री को अग्रिम आदेश तक बंद कर दिया गया. हालांकि, इस मामले के आने के बाद ओप्‍पो ने अपने सभी कर्मचारियों के कोरोना टेस्‍ट कराने शुरू कर दिए थे. बता दें कि लॉकडाउन के बाद 8 मई को कंपनी का कामकाज फिर से शुरू किया गया था.

Check Also

संकट काल में दक्षिण कोरिया की ऑटोमोबाइल कंपनी Kia Motors ने भारत में 50,000 कारे बेची

बीते साल देश में आर्थिक मंदी जैसा माहौल था. वहीं इस साल मार्च महीने से …