Home >> Walk the Talk >> चीन से दूरी बनाएगा Tiktok, ये देश बन सकता है ऐप का नया ठिकाना

चीन से दूरी बनाएगा Tiktok, ये देश बन सकता है ऐप का नया ठिकाना


Tiktok चीनी ऐप होने की अपनी छवि को मिटाना चाहता है। यही वजह है कि Tiktok ऐप चीन से दूर लंदन को अब अपना नया ठिकाना बनाने की जुगत में है। Tiktok पिछले कुछ वक्त से लंदन शहर को अपना हेडक्वॉर्टर बनाना चाहता है। इसे लेकर कंपनी की ब्रिटेन सरकार से बातचीत भी चल रही है। Tiktok ने नए ठिकाने के तौर पर वैश्विक स्तर पर कई लोकेशन खोजी हैं। लेकिन अभी तक किसी भी लोकेशन को लेकर अंतिम फैसला नहीं लिया जा सका है। हालांकि कंपनी ने किन लोकेशन को Tiktok हेडक्वॉर्टर बनाने के लिए चुना है। इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली। हालांकि ब्रिटेन के अमेरिका के कैलिफोर्निया को भी कंपनी एक विकल्प के तौर पर देख रही है।

कंपनी ने Walt Disney के को-एक्जीक्यूटिव Kevin Mayer को Tiktok का चीफ एक्जीक्यूटिव नियुक्त किया है, जो इस समय अमेरिका में बेस्ड हैं। ऐसे में उम्मीद यह भी है कि कंपनी अमेरिकी में भी ठिकाना बना सकती है। वहीं दूसरी तरफ रॉयटर्स की खबर के मुताबिक Tiktok कंपनी ने चीन के बाहर लंदन शहर पर काफी फोकस किया है। Tiktok के लिए लंदन एक काफी बड़ी मार्केट है। साथ ही यह लोकेशन काफी सही है। Tiktok की तरफ से लंदन में अपनी वर्कफोर्स को काफी तेजी से बढ़ाया जा रहा है।

Tiktok सहित 59 चीनी ऐप्स को सिक्योरिटी रीजन से भारत में बैन कर दिया गया है। इसके बाद से ही दुनियाभर में Tiktok के खिलाफ माहौल बनना शूरू हो गया। अब भारत के बाद अमेरिका भी सुरक्षा कारणों के चलते ऐप के बैन करने को लेकर Tiktok की जांच पड़ताल कर रहा है। ऐसा आरोप है कि Tiktok कंपनी यूजर्स का डाटा चीनी सरकार के साथ साझा करती है। हालांकि Tiktok इस बात से लगातार इनकार करती रही है। बता दें कि चीन की ओनरशिप वाली कंपनी चीन की ByteDance है।


Check Also

भारत में आज अमेरिका से भी अधिक मौतें, 24 घंटों में पहली बार आए 40 हजार से ज्यादा मामले

देश में अब जानलेना कोरोना वायरस ने रफ्तार पकड़ ली है. एक दिन में मौते …