Home >> Breaking News >> बड़ी खबर: विधायक खरीद फरोख्त मामले में आरोपी संजय जैन ने कोर्ट में अपना वॉयस सैंपल देने से इनकार किया

बड़ी खबर: विधायक खरीद फरोख्त मामले में आरोपी संजय जैन ने कोर्ट में अपना वॉयस सैंपल देने से इनकार किया


राजस्थान में जारी सियासी बवंडर अभी पूरी तरह से थमा नहीं है. विधानसभा सत्र की तारीख के ऐलान के बाद कांग्रेस कैंप में हलचल तेज है और लगातार बैठकों का दौर जारी है.

आज फिर सुबह दस बजे जयपुर के होटल फेयरमाउंट में कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी. इससे पहले गुरुवार को भी ऐसी ही एक बैठक हुई थी.

12.05 PM: विधायक खरीद फरोख्त मामले में आरोपी संजय जैन ने कोर्ट में अपना वॉयस सैंपल देने से इनकार कर दिया है. संजय जैन एक कारोबारी है, जिसे कुछ दिन पहले ही हिरासत में लिया गया था.

08.40 AM: जयपुर के होटल से सभी विधायकों को शिफ्ट किया जा सकता है. कांग्रेस की ओर से विधायकों को अपना सामान पैक करने को कहा गया है.

राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र के लिए 14 अगस्त की तारीख दी है, जिसके बाद कांग्रेस पार्टी अपने विधायकों को एकजुट रखने में लगी है.

गुरुवार को बैठक के दौरान सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि सभी विधायकों को लोकतंत्र की रक्षा के लिए होटल में रुकना होगा, सभी त्योहार यहां ही मनाने होंगे. कांग्रेस की ओर से कहा गया है कि विधायक अपने परिवार को भी यहां बुला सकते हैं.

साथ ही कांग्रेस ने अब नया संगठन चुनने की ओर कदम बढ़ा दिए हैं, सचिन पायलट की बगावत के बाद सभी संगठन, पदों को खाली कर दिया गया था. इसके लिए अब विधायकों से सुझाव मांगे गए हैं.

बागी हो चुके विधायकों को वापस बुलाने का न्योता देने के साथ-साथ सीएम गहलोत लगातार तंज भी कस रहे हैं. गुरुवार को उन्होंने कहा कि जब से विधानसभा सत्र का ऐलान हुआ है, विधायकों के रेट बढ़ गए हैं. अगर किसी बागी विधायक को किस्त ना मिली हो तो वो वापस आ सकता है.

अशोक गहलोत ने राजस्थान में जारी सियासी संकट के लिए भारतीय जनता पार्टी को जिम्मेदार बताया, साथ ही कहा कि कोरोना संकट के वक्त में लोगों की मदद करने की बजाय बीजेपी सरकार गिराने की कोशिश कर रही है.


Check Also

लाखों के ट्रांजैक्शन का मिलेगा जवाब ईडी ने शुरु की रिया चक्रवर्ती से पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस में ED जांच में लग गई हैं. अब रिया चक्रवर्ती मुंबई …