Home >> क्राइम >> योगी सरकार ने मुख्तार अंसारी के करीबी जुगनू वालिया की तीन करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की

योगी सरकार ने मुख्तार अंसारी के करीबी जुगनू वालिया की तीन करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की


कानपुर के बिकरू कांड के बाद उत्तर प्रदेश की पुलिस एक्शन मोड में है. यूपी पुलिस सूबे में माफिया-बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई के लिए ऑपरेशन क्लीन चला रही है. माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है. पूर्वांचल की मऊ सदर विधानसभा सीट से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी पर शिकंजा और कस गया है.

पहले मुख्तार अंसारी के रिश्तेदारों और परिजनों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित किए गए और अब संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई भी शुरू हो गई है. लखनऊ में पुलिस ने मुख्तार अंसारी के करीबी जुगनू वालिया की तीन करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई की है. लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट ने जुगनू की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई की.

गौरतलब है कि मुख्तार अंसारी जेल में बंद हैं. बिकरू कांड के बाद से ही मुख्तार अंसारी और पूर्व सांसद अतीक अहमद यूपी पुलिस के रडार पर हैं. मुख्तार के कई करीबियों और रिश्तेदारों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित करने के साथ ही असलहे थाने के मालखाने में जमा करा लिए थे. अतीक अहमद के कार्यालय से भी असलहे बरामद किए गए थे.

वहीं, पूर्वांचल के भदोही से निर्दलीय विधायक विजय मिश्रा के खिलाफ भी पिछले दिनों गैंगस्टर लगाया गया था. बता दें कि कानपुर के बिकरू में 2 जुलाई की रात दबिश देने गई पुलिस टीम पर हुए हमले में एक क्षेत्राधिकारी (सीओ) समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे.


Check Also

कानपुर अपहरण काण्ड: अगर मेरे बेटे संजीत की लाश नहीं मिलती है तो हम आत्महत्या कर लेंगे संजीत के पिता चमन लाल

कानपुर में लैब असिस्टेंट संजीत यादव के अपहरण और हत्या के मामले में पुलिस को …