Home >> In The News >> मार्च का महिना शुरु : महाराष्ट्र में कोरोना के 8623 नए मरीज मिले

मार्च का महिना शुरु : महाराष्ट्र में कोरोना के 8623 नए मरीज मिले


देश में कोरोना के मरीज फिर तेजी से बढ़ रहे है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शनिवार को कोरोना के 16,752 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 113 मरीजों की मौत हुई है। पिछले 30 दिनों के अंदर ये सर्वाधिक मामले हैं। वहीं, देश के छह राज्यों में महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, तमिलनाडु, कर्नाटक और छत्तीसगढ़ में कोरोना के सबसे ज्यादा 86.37 फीसदी मामले हो गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, महाराष्ट्र में रविवार को सबसे ज्यादा 8,623 नए मरीज मिले। एक पखवाड़े में यहां 36 हजार से ज्यादा सक्रिय मरीज बढ़े हैं। केरल में रविवार को 3,792 मामले आए। वहीं, पंजाब में 593 मरीज, कर्नाटक में 523, तमिलनाडु में 486 और गुजरात में 451 नए मामलों ने राज्यों की चिंता बढ़ा दी है।

देश में कोरोना सेे संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1,10,96,731 हो गई है, जिनमें से 1,07,75,169 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में कुल 1,64,511 सक्रिय मरीज हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार शनिवार को 113 मरीजों की मौत के साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,57,051 हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस साल 16 जनवरी से शुरू हुए कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान में अब तक 1,43, 01,266 लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। कोरोना से लड़ने वाले अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं का टीकाकरण दो फरवरी को शुरू किया गया था। आईसीएमआर ने रविवार को बताया कि अब तक कोरोना की जांच के लिए 21,62,31,106 लोगों के नमूने लिए जा चुके हैं। शनिवार को 7,95,723 नमूनों की जांच की गई।

उत्तर प्रदेश में कोरोना काल में एक साल बाद पहली से पांचवीं कक्षा तक के स्कूल सोमवार से खुलेंगे। परिषदीय स्कूलों को कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए बच्चों के स्वागत के लिए सजाया गया है। बेसिक शिक्षा विभाग ने स्कूलों में कक्षाओं के संचालन के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं।

महाराष्ट्र के कई शहरों में कोरोना के मामलों के फिर से तेेजी पकड़ने के बीच पुणे में स्कूल, कॉलेज और निजी कोचिंग संस्थानों को 14 मार्च तक बंद कर दिया गया है। कई नए मामले आने के बाद प्रशासन अलर्ट है।

पुणे के मेयर मुरलीधर मोहोल के आदेशानुसार रात 11 से सुबह 6 बजे तक आम लोगों के लिए रात्रि कर्फ्यू रहेगा और जरूरी होने पर ही बाहर निकलने की अनुमति होगी। वहीं हिंगोली जिले में प्रशासन ने 1 से 7 मार्च तक के लिए कर्फ्यू का एलान किया है।

पूरे देश में सोमवार से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू हो रहा है। इसके तहत 45 साल से 59 साल तक के बीमार लोगों और 60 साल से ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। वहीं सोमवार से ही कोविन 2.0 पोर्टल पर पंजीकरण भी शुरू हो जाएगा।

यह पोर्टल सुबह 9 बजे से खुल जाएगा। सरकारी अस्पतालों में जहां मुफ्त में टीका लगाया जाएगा, वहीं निजी अस्पतालों में लोगों को टीका लगवाने के लिए 250 रुपये चुकाने होंगे। सरकार ने टीका देने के लिए 20 बीमारियों को शामिल किया है, जिसमें 60 साल से कम उम्र के लोगों को बीमारी का प्रमाणपत्र देना होगा।


Check Also

दुनिया भर के छात्रों से आज PM मोदी करेगे ‘परीक्षा पे चर्चा’ 7 अप्रैल को शाम सात बजे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार शाम सात बजे ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के तहत वीडियो कॉफ्रेंस …