Home >> U.P. >> राजधानी के होटल में रुककर डकैती की बना रहे थे योजना, 25 हजार के इनामी बदमाश जीतू को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

राजधानी के होटल में रुककर डकैती की बना रहे थे योजना, 25 हजार के इनामी बदमाश जीतू को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार


 राजधानी के विभूतिखंड स्थित एक होटल में रुककर डकैती की योजना बना रहे जौनपुर पेट्रोल पंप पर डकैती के आरोपित एवं 25 हजार के इनामी बदमाश विश्वजीत जायसवाल उर्फ जीतू को एसटीएफ लखनऊ ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के दौरान पुलिस कर्मियों से उसकी हाथपाई हो गई। जिससे विश्वजीत जायसवाल गिर गया और उसकी गर्दन में कांच घुस गई। जिससे वह घायल हो गया। इस दौरान एक सिपाही भी घायल हो गया। बदमाश का एक साथी चंदन मौके से भाग निकला। एसटीएफ की टीम फरार चंदन की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

एसटीएफ के डिप्टी एसपी अमित नागर ने बताया कि सूचना मिली थी कि विश्वजीत लखनऊ में डकैती की योजना बना रही हा। वह अपने साथी बलजीत यादव, श्याम सिंह और चंदन के साथ यहां एख होटल में छिपा है। इसके बाद टीम गठित की गई। दारोगा मनोज पांडेय, सिपाही रुद्र नारायण समेत अन्य पुलिस कर्मियों को तैयार किया गया। चंदन मौके से भाग निकला। मौके से केवल विश्वजीत ही मिला। पुलिस ने उसकी घेराबंदी की तो हाथापाई शुरू हो गई। इस बीच विश्वजीत गिर गया और उसके गले में कांच का टुकड़ा लग गया। इस दौरान एक सिपाही भी घायल हुआ।

डिप्टी एसपी अमित नागर ने बताया कि बीते 14 मई को जौनपुर के महाराजगंज में स्थित पेट्रोल पंप पर डकैती पड़ी थी। डकैती के दौरान विश्वजीत और उसके साथियों ने फायरिंग भी की थी। गिरोह के लोगों ने चलती ट्रेन में भी लूट की वारदातें की हैं। इसके अलावा विश्वजीत पर बाइक लूट का पहला मुकदमा वर्ष 2018 में सुलतानपुर में हुआ था। विश्वजीत के खिलाफ सुलतानपुर और जौनपुर में करीब 12 मुकदमें दर्ज हैं।


Check Also

उधर पीलीभीत के सीएमओ को बचाया इधर आगरा के पारस अस्पताल को बचाया

अजब न्याय की गजब परिभाषा की बयार चल पड़ी है, शासन को यही नहीं पता …