Home >> Exclusive News >> दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने गए इंदौर के दो युवकों की कुंड में डूबने से मौत

दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने गए इंदौर के दो युवकों की कुंड में डूबने से मौत


इंदौर, कंपेल से 10 किमी दूर खुड़ैल थाना क्षेत्र के मुहाड़ी गांव के जंगल में पहाड़ी से 600 फीट नीचे फाल (झरने) के कुंड में दो युवक डूब गए। पुलिस के मुताबिक इंदौर के राजेंद्र नगर क्षेत्र के रहने वाले छह युवक रविवार दोपहर पिकनिक मनाने निकले थे। शाम को कुंड में नहाते समय 18 वर्षीय हसनान पुत्र दिलावर खान निवासी दयानंद नगर व 18 वर्षीय नाजिम पुत्र इलियाज खान डूब गए। साथ में गए तालिफ, अमन और उसके चचेरे भाइयों ने ग्रामीणों व पुलिस को सूचना दी। पुलिस के साथ ही एसडीआरएफ भी मौके पर पहुंची। शव तलाशते रात हो गई थी, इस कारण सोमवार सुबह दोबारा तलाश शुरू हुई और उन्हें बाहर निकाल लिया गया। टीआइ महेंद्रसिंह भदौरिया ने बताया कि सभी युवक दोपहर करीब एक बजे मुहाड़ी के जंगलों में घूमने गए थे।

कुंड में उतरने के लिए करीब 600 फीट गहराई में जाना पड़ता है। यहां से एक नदी निकली है। नदी सूखने के कारण कुंड दिखने लगे हैं। सभी युवक कुंड के बाजू में पिकनिक मना रहे थे। तभी तालिफ को छोड़ सभी कुंड में नहाने उतरे। कुंड की गहराई करीब 50 फीट है। पांचों डूबने लगे तो तालिफ ने अमन और उसके दोनों भाइयों को बाहर निकाल लिया। हसनान और नाजिम को निकालने की कोशिश करता, तब तक वे डूब चुके थे।

सभी 12वीं पास, हसनान कर रहा था नीट की तैयारी

खुड़ैल थाने के एसआइ विक्रमसिंह सोलंकी ने बताया सभी युवक 12वीं पास हैं। हसनान खान नीट की तैयारी कर रहा था। वहीं नाजिम खान पढ़ाई करने के बाद मैकेनिक का काम करने लगा था। सूचना पर दोनों के स्वजन भी मौके पर पहुंचे। चारों युवकों को उनके घर भेज दिया गया है।

घर से बिना बताए निकले थे : पुलिस को कुंड के पास शराब की कुछ बोतलें भी मिली हैं। स्वजन वाजिद जाफरी ने बताया कि वे घर से पिकनिक मनाने का कहकर निकले थे, लेकिन यह नहीं बताया था कि कहां जा रहे हैं।

पहले भी हो चुका हादसा : चार मार्च को मुहाड़ी फाल पर एक कालेज के 35 छात्रों का ग्रुप पिकनिक मनाने पहुंचा था। छात्रों में से वीरेंद्रसिंह पंवार और हर्ष गुप्ता कुंड में नहाने उतरे थे, लेकिन डूबने से उनकी मौत हो गई थी।

पिकनिक स्पाट पर रखें ध्यान

– फाल (झरने) में नहाने से पहले स्थानीय लोगों से जानकारी लें।

– वहां सूचना बोर्ड लगा है तो जरूर पढ़ें और अमल करें।

– नदी का बहाव बढ़ने पर तुरंत किनारे पर आ जाएं।

– शराब व अन्य नशा करने के बाद नदी व झरने में नहाने से बचें। संतुलन खोने से चट्टानों पर गिरने से भी गंभीर चोट आ जाती हैं।

 


Check Also

CM योगी ने सख्त निर्देश देते हुए कहा-सभी जनपदों में मरीजों की आवश्यकता के अनुसार तुरंत एम्बुलेंस की उपलब्धता होनी चाहिए…

उत्तर प्रदेश में सरकारी एम्बुलेंस की सेवा प्रदाता कंपनी के चालकों की हड़ताल को लेकर …