Thursday , 23 September 2021
Home >> राज्य >> दिल्ली >> कांग्रेस ने रायसाना रोड पर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि और पेगासस समेत कई मुद्दों पर केंद्र सरकार के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

कांग्रेस ने रायसाना रोड पर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि और पेगासस समेत कई मुद्दों पर केंद्र सरकार के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन


यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता रायसाना रोड पर पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि और पेगासस समेत कई मुद्दों पर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल थे। मिली जानकारी के अनुसार, प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता बेकाबू हो गए। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया।

भारतीय युवा कांग्रेस द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के दौरान 28 महिलाओं, 2 सांसदों और 2 विधायकों सहित कुल 589 लोगों को हिरासत में पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने बताया कि प्रदर्शन के आयोजक श्रीनिवास बीवी को विरोध मार्च निकालने की अनुमति नहीं दी गई थी।

राहुल गांधी ने केंद्र पर साधा निशाना

युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज देश के सामने बेरोज़गारी सबसे बड़ा मुद्दा है। प्रधानमंत्री सभी विषयों पर बोलते हैं लेकिन रोज़गार के बारे में वे एक शब्द नहीं बोलते हैं। उन्होंने कहा था कि हर साल 2 करोड़ रोज़गार दिया जाएगा, उल्टा लाखों करोड़ों युवाओं से उनका रोज़गार छीना गया।

 

jagran

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र का लक्ष्य भारत के युवाओं की आवाज़ को दबाने का है। क्योंकि ये जानते है कि जिस दिन भारत के युवाओं ने सच्चाई बोलनी शुरू कर दी उसी दिन केंद्र सरकार ख़त्म हो जाएगी।

बताया जा रहा है कि संसद घेराव के दौरान प्रदर्शनकारी बैरिकेड्स तोड़ने का प्रयास किया। इस पर पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन की वजह से राजधानी के अशोक रोड और मध्य दिल्ली के अन्य हिस्सों में ट्रैफिक जाम लग गया। जाम की वजह रायसीना रोड पर भारतीय युवा कांग्रेस के विरोध को बताया जा रहा है।


Check Also

लखनऊ के हजरतगंज में रहने वाले एक डॉक्‍टर के घर पर साल भर से चोरी कर रहा था नौकर, ऐसे खुली पोल

हजरतगंज के पाश इलाके में रहने वाले एक डॉक्‍टर के घर उनका नौकर ही काफी …