Tuesday , 21 September 2021
Home >> क्राइम >> मकान बनवाने के लिए बैंक से लोन दिलवाने के नाम पर एक जालसाज ने वृद्ध महिला के साथ की ठगी….

मकान बनवाने के लिए बैंक से लोन दिलवाने के नाम पर एक जालसाज ने वृद्ध महिला के साथ की ठगी….


मकान बनवाने के लिए बैंक से लोन दिलवाने के नाम पर एक जालसाज ने वृद्ध महिला के साथ ठगी कर दी। महिला के नाम पर बैंक से मोपेड लोन के दस्तावेज तैयार करवाए। जिसके बाद शोरूम से मोपेड फाइनेंस करवाकर चंपत हो गया। वृद्ध महिला को ठगी का पता तब चला जब वाहन लोन की किस्त जमा करने के लिए बैंक की टीम उसके घर पहुंची। वृद्धा ने पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा से मामले की शिकायत की थी लालगंज पुलिस द्वारा शिकायत की जांच के उपरांत धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करते हुए आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह है मामला : लार्डगंज पुलिस ने बताया कि मानवती विश्वकर्मा 60 वर्ष निवासी नर्मदा नगर रोड संत नगर ग्वारीघाट ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने बताया कि अप्रैल माह में वह अपने घर पर थी। उसके घर पर पूर्व से राहुल काछी का आना-जाना था। राहुल काछी उसके घर आया और बोला की बुआ चलो मैं तुम्हें मकान बनवाने के लिए लोन दिलवा देता हूं। जिसके बाद वह राहुल के साथ बैंक चली गई। वहां पर राहुल काछी ने उससे आधारकार्ड, पेनकार्ड, फोटो, बैंक की पास बुक की फोटो कापी करवाकर अपने पास रख लिया। जिसके बाद कहा कि जल्द ही होम लोन की राशि मिल जाएगी। जिसके बाद राहुल मोपेड के शो रूम ले गया और उससे गाड़ी खरीदने से संबंधित कागजातों पर हस्ताक्षर करवाया और उसके नाम से मोपेड गाड़ी उठवा लिया और गाड़ी अपने पास रख लिया। जून में जब बैंक वाले उसके घर गाड़ी की किस्त वसूल करने आए तो उसे घटना का पता चला। कि राहुल काछी ने उसके साथ धोखाधड़ी करके गाड़ी खरीद लिया है और खुद गाड़ी का उपयोग कर रहा है। उसने राहुल काछी से उसके नाम से उठाई गाड़ी मांगी तो वह मुकर गया। रिपोर्ट पर धारा 420, 406 का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

 

ऐसे पकड़ाया : गठित टीम द्वारा सरगर्मी से तलाश करते हुए राहुल काछी 26 वर्ष निवासी दुर्गा नगर झिरिया कुआ रामपुर गोरखपुर को अभिरक्षा में लिया गया। उसकी निशादेही पर धोखाधडी कर फाइनेंस कराई हुई बिना नम्बर की मोपेड जब्त कर ली गई। पूछताछ पर पता चला कि राहुल काछी 12वीं पास है। खुद की कार एमपीईबी में अटैच करवाकर स्वयं चलाता है।

 

इनकी रही भूमिका : आरोपितों की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी लार्डगंज प्रफुल्ल श्रीवास्तव, सहायक उप निरीक्षक कुंज बिहारी, क्राइम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक प्रमोद पांडेय, प्रधान आरक्षक रामगोपाल, अजय सोनकर, अमित श्रीवास्तव की भूमिका रही।


Check Also

बदमाशों ने दो अलग अलग जगहों पर महिलाओं को निशाना बनाते हुए झपट लीं पर्स और सोने की बालियां

Snatching in Ludhiana: शहर में बाइकर्स का आतंक निरंतर जारी है। बदमाशों ने दो अलग अलग …