Home >> Breaking News >> कांग्रेस के एजेंट हैं उप राज्यपाल : आशुतोष

कांग्रेस के एजेंट हैं उप राज्यपाल : आशुतोष


AAP
नई दिल्ली,एजेंसी -7 फरवरी। दिल्ली में जनलोकपाल बिल पास कराए जाने के मुद्दे पर दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच तकरार बढ़ती दिख रही है। सॉलिसिटर जनरल मोहन परासरन द्वारा जनलोकपाल बिल को असंवैधानिक बताए जाने के बाद आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग पर ही हमला बोल दिया।

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने कहा कि इस पूरे मामले में लेफ्टिनेंट गवर्नर और सॉलिसिटर जनरल के बीच जो बातचीत हुई है, वह गोपनीय होती है। यह कैसे लीक हुआ है? इसके पीछे राजनीति की जा रही है। उन्होंने कहा कि `आप` सरकार को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।

आशुतोष ने आरोप लगाया कि ले. गवर्नर कांग्रेस के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं और दिल्ली की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं। आशुतोष ने कहा कि हम उनसे अपील करते हैं कि वो कांग्रेस के एजेंट के रूप में काम करने बंद करें।

आशुतोष ने कहा कि कांग्रेस-बीजेपी को लगता है कि जितने भी दिन `आप` की सरकार रहेगी, बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं के फंसने की गुंजाइश है। कांग्रेस नेता जे पी अग्रवाल ने इसका जवाब देते हुए कहा कि जो बयान आशुतोष ने दिया है उसे अच्छे शब्दों में कहा जाना चाहिए।

दूसरी तरफ सॉलिसिटर जनरल मोहन परासरन ने कहा कि हमें पॉलिटिक्स से मतलब नहीं है। हमने संवैधानिक रूप से अपनी राय दी है। ये अब सरकार पर निर्भर करता है कि वो क्या करती है और उसे क्या ठीक लगता है। वहीं अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस मसले में मैं एलजी को चिट्ठी लिखूंगा।

दरअसल, सॉलिसिटर जनरल मोहन परासरन ने यह कहकर केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ा दी हैं कि उनके लोकपाल के लिए उपराज्यपाल की पूर्व स्वीकृति जरूरी है। जनता के बीच, जनता के लिए और जनता को जिस जनलोकपाल की सौगात केजरीवाल सौंपने की तैयारी कर रहे हैं, उसमें नए सिरे से संविधान और सत्ता का अड़ंगा लगता दिख रहा है।


Check Also

कांग्रेस के सीनियर नेताओ का जम्मू-कश्मीर में पार्टी हाईकमान के खिलाफ हल्ला बोल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की उत्तर-दक्षिण से जुड़ी टिप्पणी और जी-23 गुट की लगातार अनदेखी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *