Wednesday , 27 October 2021
Home >> Breaking News >> अम्मा के हेल्थ पर बोले तो जबान खींच लूंगा- AIADMK सांसद

अम्मा के हेल्थ पर बोले तो जबान खींच लूंगा- AIADMK सांसद


नई दिल्ली,(एजेंसी)20 जुलाई। इन दिनों राजनेताओं की जुबां कहां और कितनी फिसल जाए इसका अंदाजा शायद कोई नहीं लगा सकता और खासकर वह शख्स तो इसका अंदाजा और भी नहीं लगा सकता जो ऐसे विवादास्पद बयान देकर सुर्खियों में आ जाते हैं। मध्यप्रदेश के मंत्री के बेतुके बयान के बाद अब तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता की पार्टी के एक सांसद ने एक ऐसा विवादास्पद बयान दिया है जो लोगों के गले से नीचे नहीं उतर रहा है।

PR Sundaram_jayalalitha

एआईएडीएमके सांसद पीआर सुंदरम ने लोगों को धमकी देते हुए कहा,”अगर किसी ने भी जयललिता के हेल्थ को लेकर कुछ बोला तो उसकी जबान खींच लूंगा।” कुछ दिनों पहले डीएमके चीफ एम करुणानिधि ने हेल्थ को लेकर जयललिता पर निशाना साधा था।

karunanidhi

फ़ाइल फ़ोटो: डीएमके प्रमुख के. करुणानिधि

राजेंद्र नगर उप चुनाव में मुख्यमंत्री जयललिता की जीत के जश्न में रविवार को आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में सुंदरम ने यह बयान दिया। एआईएडीएम के प्रदेश अध्यक्ष से जानकारी मांगी गई तो उनका कहना था कि उन्हें ऐसी कोई सूचना नहीं है। हालांकि उन्होंने कहा कि ”जानकारी मिलने पर मैं देखूंगा की सांसद ने ऐसा मजाक में कहा था या वे गंभीर थे।”

दरअसल डीएमके चीफ करुणानिधि ने जयललिता को आराम करने की सलाह देते हुए कहा था कि उनकी उम्र 67 साल हो रही है अब उन्हें आराम करना चाहिए. इस पर सुंदरम ने उन्हें सलाह देते हुए कहा कि करुणानिधि की उम्र 93 साल हो चुकी है वे क्या अब 100 साल तक जीना चाहते हैं?

केवल इतना ही नहीं सुंदरम ने कहा कि वक्त आ चुका है कि अब करुणानिधि को अपनी राजनीतिक विरासत अपने बेटों को सौंप देनी चाहिए।

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता जुलाई महीने की शुरुआत में 10 दिन तक अपने ऑफिस नहीं आईं थी। इसके बाद उनके हेल्थ के बारे में कई तरह की अटकलें लगाईं जा रही थी।

कांग्रेस नेता ईवीकेएस इलेंगोवन ने सरकार से इस बात की जानकारी मांगी थी कि वह मुख्यमंत्री की गैरमौजूदगी के बारे में सही जानकारी दें। बीजेपी नेता सुब्रह्मण्य स्वामी ने तो ट्वीट कर जयललिता के लीवर की सर्जरी के लिए अमेरिका जाने की आशंका जताई थी। इस पर एआईएडीएमके ने सफाई देते हुए कहा था कि उनकी नेता का लीवर ट्रांसप्लांट के लिए विदेश जाने का कोई प्लान नहीं है।

आपको बता दें कि हेल्थ को लेकर उड़ाई जा रही अफवाहों के बीच जयललिता 15 जुलाई को अपने ऑफिस पहुंची। यहां सरकारी कॉलेजों में शिक्षकों की भर्ती योजना की घोषणा करने के लिए उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग भी की।

जयललिता ने राजेंद्र नगर उप चुनाव में भारी बहुमत से जीत हासिल कर 4 जुलाई को ही दुबारा मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। इसके बाद वे 10 दिनों तक सीएम ऑफिस नहीं आईं थी। गौरतलब है कि जयललिता बतौर मुख्यमंत्री अपने तीसरे कार्यकाल में उस दौरान परेशानी में आ गई थी जब भ्रष्टाचार के एक आरोप में उन्हें जेल जाना पड़ा था।


Check Also

दिल्ली-एनसीआर में हुई बारिश ने एक बार फिर प्रशासन के दावे की खोल दी पोल, कहीं डूबी मर्सिडीज तो कहीं गायब हुई साइकिल

दिल्ली-एनसीआर में बुधवार को हुई बारिश ने एक बार फिर प्रशासन के दावे की पोल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *