Wednesday , 27 October 2021
Home >> Breaking News >> पीएम मोदी ने माना किसानों के बीच खराब हुई सरकार की छवि: सूत्र

पीएम मोदी ने माना किसानों के बीच खराब हुई सरकार की छवि: सूत्र


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। आज से संसद का मॉनसून सत्र शुरु हो रहा है। इस सत्र के काफी हंगामे दार रहने के आसार हैं। विपक्ष ज़मीन बिल सहित ललितगेट और व्यापम जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरने में कोई कोर कसर नहीं छोडना चाहती है, दूसरी और सरकार भी अपनी पूरी रणनीति के साथ तैयार है। इसी के मद्देनज़र कल पीएम मोदी ने NDA के घटक दलों की बैठक बुलाई।

सूत्रों के मुताबिक एनडीए की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माना कि किसानों के बीच सरकार की छवि खराब हुई है। सूत्रों के मुताबिक NDA के घटक दलों ने व्यापम और ललितगेट कांड में किसी को नहीं हटाने के बीजेपी के फैसले का समर्थन किया।

modi

इस बैठक में शिवसेना ने NDA के संयोजक की मांग उठाई जिस पर पीएम मोदी ने एकजुटता दिखाने के लिए कहा। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि संसद के मॉनसून सत्र में मोदी सरकार और विपक्ष में महामुकाबला होगा।

पीएम ने माना

सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी ने माना कि दुष्प्रचार के चलते किसानों के मन में सरकार की नकारात्मक छवि पनपी है। पीएम मोदी ने कहा कि NDA के घटक दलों में समन्वय की कमी है। इसे बढ़ाने के और प्रयास होने चाहिए।

आपको बता दें कि 13 अगस्त तक चलने वाला इस मॉनसून सत्र में आज जहां राज्यसभा में व्यापम और ललितगेट पर हंगामे के आसार हैं, वहीं श्रद्धांजलि कार्यक्रम के बाद लोकसभा स्थगित रहेगी।

तृणमूल कांग्रेस ने भी साफ तौर पर कहा है कि वो संसद के मॉनसून सत्र में व्यापम, ललितगेट जैसे भ्रष्टाचार के मुद्दों पर मोदी सरकार को घेरेगी। तृणमूल कांग्रेस जमीन बिल का भी विरोध कर रही है।

इस मॉनसून सत्र में सरकार GST और रियल इस्टेट रेग्यूलेटरी बिल पास कराने की कोशिश करेगी वहीं जमीन बिल इस सत्र में नहीं आएगा।


Check Also

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक साथ 10 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का छापा, TMC नेताओं से लिंक का शक

पूरे देश में रिकॉर्ड टीकाकरण के बीच फर्जी वैक्सीन का मामला भी प्रकाश में आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *