Home >> बिज़नेस >> अमेरिकी बाजार की बढ़त पर संभला एशियाई बाजार

अमेरिकी बाजार की बढ़त पर संभला एशियाई बाजार


नई दिल्ली,(एजेंसी)21 जुलाई। अमेरिकी शेयर बाजार सोमवार को कारोबारी सुस्ती के बावजूद हरे निशान के साथ रिकॉर्ड तेजी पर बंद होने में कामयाब हुए। यूरोपीय बाजारों में भी जोरदार तेजी देखने को मिली है। इस तेजी के बीच मंगलवार को एशियाई बाजारों की शुरुआत भी हरे निशान में हुई है। जापान और दक्षिण कोरिया के शेयर बाजार में हरे निशान पर कारोबार हो रहा है। वहीं चीन का प्रमुख शंघाई इंडेक्स गिरावट के साथ लाल निशान पर कारोबार कर रहा है।

संभला एशियाई बाजार, मिलाजुला कारोबार
एशिया के ज्यादातर शेयर बाजारों में सुस्त कारोबार देखने को मिल रहा है। जापान का निक्केई 88 अंकों की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है। साथ ही हैंग सेंग भी 105 अंकों की मजबूती के साथ 25509 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। हालांकि एसजीएक्स निफ्टी सपाट होकर 8630 के आसपास स्थिर है। वहीं स्ट्रेट्स टाइम्स में मामूली गिरावट के साथ कारोबार हो रहा है। शंघाई कम्पोजिट 15 अंकों की गिरावट के साथ 3977 के स्तर पर मौजूद है। वहीं कोरियाई बाजार कोस्पी की चाल सपाट है।

us_market_s_650_072115092507

File Image

आईटी कंपनियों के नतीजे से नैस्डेक शिखर पर
सोमवार को अमेरिकी बाजारों में दिनभर सुस्त कारोबार हावी रहा। हालांकि भाजार के आखिरी चरणों में आए आईटी कंपनियों के अच्छे नतीजों से नैस्डेक नए शिखर पर बंद होने में सफल हो गया। नैस्डेक 8.7 अंक यानि करीब 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 5218.9 के स्तर पर बंद हुआ। डाओ जोंस 14 अंकों की बढ़त के साथ 18100.4 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एसएंडपी 500 इंडेक्स भी मामुली बढ़त के साथ 2128.3 के स्तर पर बंद हुआ।

सोने में गिरावट जारी
शंघाई और न्यूयॉर्क में हुई बिकवाली से सोने में गिरावट बढ़ गई है। सोमवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 4 फीसदी गिरकर 5 साल के निचले स्तर पर पहुंच गया था। मंगलवार को कॉमैक्स पर सोना करीब 0.5 फीसदी की गिरावट के साथ 1103 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर है। वहीं कॉमैक्स पर चांदी 0.25 फीसदी टूटकर 14.7 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर है।

क्रूड में आई गिरावट
सऊदी अरब के एक्सपोर्ट में कमी आने से क्रूड के भाव में गिरावट दर्ज हुई है। मंगलवार सुबह नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई क्रूड 0.3 फीसदी फिसलकर 50.3 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर है। वहीं ब्रेंट क्रूड का भाव 56.5 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर है।


Check Also

महंगाई की मार के साथ हुआ सितंबर माह का आगाज़, सरकारी तेल कंपनियों ने घरेलू LPG सिलेंडर की कीमतों में एक बार फिर किया इजाफा

सितंबर माह का आगाज़ महंगाई की मार के साथ हुआ है. सरकारी तेल कंपनियों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *